फेसबुक पर इस्तीफा छापने वाले BJP नपाध्यक्ष ने माफी मांगी

Thursday, September 7, 2017

भोपाल। होशंगाबाद के नगरपालिका अध्यक्ष अखिलेश खंडेलवाल ने 4 सितम्बर को रात करीब 10:40 बजे अपनी फेसबुक वॉल पर इस्तीफा छापकर पूरे प्रदेश में सनसनी फैला दी थी। उन्होंने ऐलान कर दिया कि वो अब भाजपा से कोई संबंध नहीं रखेंगे। भाजपा की प्राथमिक सदस्यता भी त्याग दी थी परंतु 6 सितम्बर की शाम उसी फेसबुक पर अखिलेश ने पुरानी पोस्ट डीलिट कर दी और नई पोस्ट में माफी मांग ली। माना जा रहा है कि भाजपा को ब्लैकमेल करने के लिए अखिलेश खंडेलवाल ने यह खेल खेला था। 

4 सितम्बर की रात किया इस्तीफे का ऐलान
नपाध्यक्ष अखिलेश खंडेलवाल ने सोमवार रात एकाएक फेसबुक पर भाजपा की प्राथमिक सदस्यता छोड़ दी। रात करीब 10.40 बजे फेसबुक पर डाली उनकी पोस्ट से शहर का राजनीतिक तापमान चढ़ गया। दैनिक भास्कर के पत्रकार को दी प्रतिक्रिया में खंडेलवाल ने कहा था कि वो शहर से बाहर हैं इसलिए संगठन को इस्तीफा नहीं सौंपा। मंगलवार सुबह इस्तीफा भेज देंगे। 

5 सितम्बर को इस्तीफा नहीं भेजा
होशंगाबाद में नगर पालिका अध्यक्ष एवं भाजपा नेता अखिलेश खंडेलवाल ने सोमवार रात 10:40 बजे फेसबुक पर इस्तीफा देने का ऐलान कर दिया है। उन्होंने लिखा कि वो मंगलवार को सुबह इस्तीफा भेज देंगे परंतु जिलाध्यक्ष हरिशंकर जयसवाल के पास शाम 6 बजे तक इस्तीफा नहीं पहुंचा था। जयसवाल ने खंडेलवाल के नाम नोटिस जारी कर दिया है। खंडेलवाल की इस हरकत को अनुशासनहीनता माना गया। 

6 सितम्बर को मांगी माफी
6 सितम्बर की शाम तक​ नपाध्यक्ष अखिलेश खंडेलवाल ने उसी फेसबुक पर इस्तीफे वाली पोस्ट डीलिट की और माफी नामा छापा। अखिलेश ने लिखा है 'आज संभाग संगठन मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ पदाधिकारियों से चर्चा के उपरांत फेसबुक से अपना पोस्ट हटाया और संगठन को विश्वास में लिए बगैर आगामी समय में इस तरह की पोस्ट न डालने को आश्वस्त किया।सभी सम्माननीय पदाधिकारियों को सौहार्दपूर्ण चर्चा और हमारी बात को गंभीरता पूर्वक सुनने पर हार्दिक आभार..मेरी पोस्ट से किसी भी व्यक्ति/पदाधिकारी/कार्यकर्ता को ठेस पंहुची हो तो मैं खेद व्यक्त करता हूं.......' सवाल यह है कि क्या अखिलेश ने भाजपा को ब्लैकमेल करने के लिए यह सारा प्रपंच रचा था। सवाल यह भी है कि जब इस स्तर के पदाधिकारी ने अनुशासनहीनता की है तो क्या संगठन उसे यूं ही माफ कर देगा। 


विश्वास सारंग समर्थक, मोदी-शिवराज से नाता तक नहीं
अलिखेश खंडेलवाल के सोशल मीडिया अकाउंट का आॅडिट करने पर पता चलता है कि वो भले ही भाजपा नेता हैं परंतु मोदी या शिवराज से कोई सरोकार नहीं रखते। भाजपा शायद ही कोई नेता है जिसके सोशल मीडिया अकाउंट पर आपको मोदी और शिवराज के फोटो व पोस्ट दिखाई ना दें परंतु नगरपालिका अध्यक्ष अखिलेश खंडेलवाल के सोशल मीडिया अकाउंट पर भाजपा के ये दोनों सर्वमान्य नेता दिखाई ही नहीं देते। यहां तक कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का 15 अगस्त को लाल किले की प्राचीर से दिया गया एतिहासिक भाषण का अंश, फोटो या जिक्र तक अखिलेश की फेसबुक वॉल पर नहीं है। अखिलेश ने खुद के अलावा भाजपा के केवल एक नेता की फोटो शेयर की है, वो है सहकारिता मंत्री विश्वास सारंग। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week