... भारतीय अर्थ व्यवस्था क्रैश हो जाएगी: BJP सांसद स्वामी ने कहा

Wednesday, September 20, 2017

नई दिल्ली। हालात चिंताजनक हो गए हैं। भारतीय अर्थव्यवस्था अनियंत्रित गिरावट के दौर से गुजर रही है। यह कभी भी क्रैश हो सकती है। इसे बचाने के लिए तुरंत कदम उठाने चाहिए। यह बयान किसी कांग्रेसी नेता या अर्थशास्त्री का नहीं बल्कि गांधी परिवार की नाक में दम कर देने वाले भाजपा नेता व सांसद सुब्रमण्यम स्वामी का है। उनका कहना है कि जल्द ही उचित कदम नहीं उठाए गए, तो यहां गंभीर मंदी (मेजर डिप्रेशन) आ जाएगी।

उन्होंने कहा कि एक साल पहले ही मई 2016 में हमने अर्थव्यवस्था पर 16 पेज की रिपोर्ट प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को सौंपी थी। उनको तभी आगाह कर दिया था। आने वाली पांच चुनौतियों के प्रति सचेत कर दिया था। सरकार के ही अलग-अलग विभागों के आंकड़ों को इकट्ठा कर आने वाले संकट के प्रति चेतावनी दी थी। एक अंग्रेजी अखबार से बातचीत करते हुए स्वामी ने कहा कि अब तुरंत कदम उठाए जाने की जरूरत है। यदि सही कदम नहीं उठाए गए, तो गंभीर मंदी आ सकती है। बैंकिंग व्यवस्था चौपट हो सकती है, फैक्ट्रियां बंद होने की आशंका है। 

उन्होंने कहा कि सरकार को तुरंत ही इनकम टैक्स खत्म कर देने की सलाह दी है। उनका मानना है कि इससे जनता में विश्वास की बहाली होगी। लोगों में बचत (सेविंग) को लेकर उत्सुकता होगी। अंततः इससे निवेश को बल मिलेगा। 

दूसरा महत्वपूर्ण कदम उन्होंने कहा कि ब्याज दर में कमी करनी चाहिए। इससे छोटे और मध्यम दर्जे के उद्योगों को बड़ा संबल मिलेगा। उद्योग क्षेत्र को लेकर स्वामी ने कहा कि अमेरिका जैसे देश में 2 प्रतिशत पर ही लोन मिल जाता है, लेकिन यहां 12 प्रतिशत से 18 प्रतिशत की दर पर लोन दिया जाता है।

स्वामी ने फिक्सड डिपोजिट पर भी ब्याज बढ़ाने की वकालत की है। उनके अनुसार यह 9 प्रतिशत होनी चाहिए। इससे लोग फिक्सड डिपोजिट के प्रति उत्सुक होंगे। 

उन्होंने दावा किया है कि वर्तमान में अर्थव्यवस्था की प्रगति को लेकर जो रिपोर्ट जारी हुई है, सही आंकड़े इससे भी खराब हैं। अगर सही इंडेक्स नंबर की गणना करनी है तो आप सैमुएलसन-स्वामी के सिद्धान्त से इसकी गणना कीजिए, सही आंकड़े आपको मिलेंगे।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं