शिवराज का चौथा मंत्री विवादित: भरे मंच से तहसीलदार को गालियां दीं

Thursday, September 21, 2017

भोपाल। इन दिनों सीएम शिवराज सिंह चौहान के मंत्री विवादित बयान और हरकतें करके सुर्खियों में हैं। कृषि मंत्री गौरीशंकर बिसेन, खेल मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया और राजस्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता के बाद अब खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री ओमप्रकाश धुर्वे भी विवादों में आ गए हैं। उन्होंने सतना में भरे मंच से तहसीलदार को गालियां दीं। धुर्वे सतना के प्रभारी मंत्री भी हैं। वो चित्रकूट में आयोजित जन समस्या निवारण शिविर में हितग्राहियों को हित लाभ बांटने पहुंचे थे। बता दें कि चित्रकूट में शिवराज सरकार उपचुनाव की तैयारियां कर रही है। 

क्या हुआ घटनाक्रम 
कार्यक्रम के दौरान मंच पर पहुंचे एक हितग्राही ने अर्से से सीमांकन मामला लटका होने पर पटवारी की शिकायत की। प्रभारी मंत्री धुर्वे सख्त मिजाज में आ गए। उन्होंने डपटते हुए पूछा पटवारी कहां है? पटवारी नहीं मिला तो नायब तहसीलदार को बुलाया। तभी तहसीलदार जीतेन्द्र वर्मा मंच पर पहुंच गए। प्रभारी मंत्री ने गालियां देते हुए कहा कि तनख्वाह 40-40 हजार लेते हो और काम धेले का नहीं करते। इसके बाद माहौल गर्मा गया। 

तहसीलदार ने भी दिया करारा जवाब 
तहसीलदार ने भी भरे मंच पर प्रभारी मंत्री को करारा जवाब दिया। जीतेन्द्र वर्मा ने दो टूक चेतावनी दी कि वो गलत भाषा का इस्तेमाल न करें। अगर काम पसंद नहीं तो रिजाइन ले लें, लेकिन बात ठीक से करें। तहसीलदार के तल्ख तेवर देख प्रभारी मंत्री ओमप्रकाश सन्न थे। वर्मा ने कहा कि वो पीसीएस ऑफिसर हैं और पब्लिक के बीच उनका भी वजूद है। आर्मी से रिटायर तहसीलदार ने माननीय को ये भी बताया कि उन्होंने कारगिल की जंग लड़ी है। श्रीलंका, सोमालिया और मालदीव भी गए हैं। उन्हें 6 सैन्य मैडल और सिहंस्थ में उत्कृष्ट सेवा का सीएम अवार्ड यू ही नहीं मिला है।

अब अधिकारी संघ मंत्री के खिलाफ लामबंद 
मंत्री द्वारा की गई इस अभद्रता पर मध्यप्रदेश राजपत्रित अधिकारी संघ और अधिकारी संघ भोपाल ने कड़ी निंदा की है। गुरुवार को संघ के पदाधिकारी मुख्यमंत्री से मिलकर मंत्री धुर्वो के इस्तीफे की मांग करेंगे। सतना में घटित हुई घटना कि राजस्व अधिकारी (कनिष्ठ प्रशासनिक सेवा) संघ कड़ी निंदा करता की है और जिला इकाई सतना का समर्थन भी जताया है।

याद दिला दें कि 2016 में भी अनुपपुर के एक कार्यक्रम के दौरान मंत्री धुर्वो ने मंच से तहसीलदार को गालियां दी थी। जिसके बाद प्रदेश में तहसीलदारों में उनके बर्ताव को लेकर ​सीएम से शिकायत की थी। इसी माह सिवनी में कृषि मंत्री गौरीशंकर बिसेन ने भरे मंच से कृषि उपज मंडी की महिला सचिव को दुत्कार कर भगा दिया था। राजगढ़ में यशोधरा राजे सिंधिया एक विकलांग से नाराज हो गईं थीं, जिसे पुलिस ने धक्के देकर निकाल दिया था। भिंड में उमा शंकर गुप्ता ने शिवराज सिंह सरकार को भगवान श्रीराम राज्य और कृष्ण युग से भी बेहतर बताया है। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week