अब भी गायब है सलमान का लकी ब्रेसलेट, जोधपुर कोर्ट में पेश नहीं हो पाए

Thursday, July 6, 2017

नई दिल्ली। एक धारणा है कि 'लकी ब्रेसलेट' के सहारे सलमान खान ने जिंदगी की कई मुश्किलें पार कीं, कई सफलताओं को चूमा लेकिन आजकल सलमान का 'लकी ब्रेसलेट' गायब है। वो उनके हाथों में दिखाई नहीं दे रहा है। हाल ही में उनकी फिल्म 'ट्यूबलाइट' फ्लॉप हो गई। बहुचर्चित हिरण शिकार से जुड़े आर्म्स एक्ट केस में गुरुवार को फिल्म अभिनेता सलमान खान जोधपुर कोर्ट में पेश होना था लेकिन वो नहीं आए। उन्हें जोधपुर शहर की बिगड़ती कानून व्यवस्था के नाम पर हाजरी माफी मिल गई़।

दरअसल, जोधपुर शहर की बिगड़ती कानून व्यवस्था के डर से सलमान खान को अपनी जमानत का मुचलका भरने कोर्ट में पेश नहीं हो पाए। कोर्ट में सलमान के वकील ने कानून व्यवस्था का हवाला देते हुए सलमान को जोधपुर बुलाने को उचित नहीं समझा और सुनवाई 4 अगस्त तक टाल दी गई।

सलमान के वकील ने हाल ही हुए आनंदपाल सिंह एनकाउंटर और यहां की कानून व्यवस्था को आधार बताते हुए, और पुलिस कमिश्नरेट द्वारा सलमान को सुरक्षा देने में असमर्थता जताने को आधार बनाया और सलमान के साथ कोई भी घटना घटित हो सकने का हवाला देते हुए यह बताया कि ऐसे हालात सलमान को आज बुलाना उचित नहीं।

क्या कहा सलमान के वकील ने?
सलमान के वकील हस्तीमल सारस्वत ने कोर्ट के समक्ष तर्क दिया कि जोधपुर की कानून व्यवस्था इन दिनों गड़बड़ाई हुई है। साथ ही आनंदपाल एनकाउंटर के बाद तनावपूर्ण माहौल है। इस माहौल में सलमान खान के यहां आने से उनके साथ कोई भी घटना घटित हो सकती है। इस कारण उन्हें आज कोर्ट में उपस्थित रहने से हाजरी माफी प्रदान की जाए।

अब 4 अगस्त को व्यक्तिगत रूप से पेश होंगे सलमान
इस पर कोर्ट ने उन्हें हाजरी माफी प्रदान करते हुए अगली सुनवाई तिथि चार अगस्त को सलमान खान को न्यायालय में व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होकर अपने जमानत मुचलके भरने का आदेश दिया. कोर्ट के बाहर सारस्वत ने कहा कि उन्हें जोधपुर पुलिस कमीशनर की ओर से सलमान को सुरक्षा उपलब्ध नहीं कराने के बारे में कुछ नहीं कहा गया, लेकिन हालात को देखते हुए उन्होंने यह निर्णय किया.

कोर्ट ने कलेक्टर और पुलिस कमिश्नर को दिया था आदेश
जोधपुर शहर में बढ़ते क्राइम से खफा हो राजस्थान हाईकोर्ट ने बुधवार को जोधपुर के कलेक्टर और पुलिस कमीशनर को हुए कानून व्यवस्था में सुधार करने का आदेश दिया था. लेकिन लोक अभियोजक धनराज वैष्णव और विश्नोई समाज के वकील महिपाल विश्नोई की माने तो हाजरी माफी इसी तर्क को लेकर मांगी गई थी कि आनंदपाल एनकाउंटर के चलते शहर के हालात खराब है जिसके चलते कमिश्नरेट की ओर से सलमान के बॉडीगार्ड शेरा को फोन कर बताया गया कि शहर में हालात खराब होने के चलते सुरक्षा पुलिस सुरक्षा देने में असक्षम है.

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week