MP: किसानों पर पुलिस फायरिंग होते ही सिंधिया विदेश रवाना

Thursday, June 8, 2017

भोपाल। इधर किसान आंदोलन में मप्र धधक रहा है। 13 यात्री बसें और 150 वाहन राख कर दिए गए। तमाम सरकारी संपत्तियां तबाह हो गईं। सड़कों पर दूध की नदियां बहा दी गईं। क्विंटलों सब्जियां सड़कों पर फैंक दी गईं। पुलिस फायरिंग में 6 किसानों की मौत हो गई, लेकिन इन सब से बेपरवाह मप्र में सीएम कैंडिडेटशिप के प्रवल दावेदार ज्योतिरादित्य सिंधिया उसी शाम विदेश रवाना हो गए, जबकि किसानों पर फायरिंग की गई। मंदसौर पुलिस फायरिंग कांड ने ना केवल 6 किसानों की जान ले ली बल्कि इस मुद्दे को देशव्यापी बना दिया। तमाम विपक्षी पार्टियां, यहां तक कि कांग्रेस के वाइस प्रेसिडेंट राहुल गांधी तक अपने कामकाज छोड़कर मप्र की तरफ आ रहे हैं लेकिन मप्र में कांग्रेस के 3 दिग्गज कमलनाथ, दिग्विजय सिंह एवं ज्योतिरादित्य सिंधिया मप्र नहीं आए। 

ट्वीटर पर ताबड़तोड़ हमले और मंदसौर कांड पर गहरा गुस्सा जताने वाले पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह गुरूवार तक मप्र नहीं आए थे। उनके समर्थकों का कहना है कि एकाध दिन में वो आने वाले हैं। मप्र में जब किसान आंदोलन चल रहा था, कमलनाथ केदारनाथ की यात्रा पर थे। हालांकि जैसे ही उन्हे पता चला कि राहुल गांधी मंदसौर जाने वाले हैं, वो दिल्ली लौट आए और राहुल गांधी के साथ मप्र भी आए। मप्र में कांग्रेस का मुकुट बन चुके सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ठीक उसी दिन विदेश यात्रा पर चले गए जब मंदसौर में किसानों पर पुलिस फायरिंग की खबर आ रही थी। 

टीवी पर इधर मृतकों की संख्या 4 हुई, उधर सिंधिया के हवाईजहाज ने विदेश यात्रा के लिए उड़ान भर दी। भोपालसमाचार.कॉम ने सांसद सिंधिया के कार्यालय से जानना चाहा कि आखिर क्या मजबूरी थी कि वो मप्र में पुलिस की गोलियों का शिकार हो रहे किसानों को अकेला छोड़कर विदेश चले गए परंतु जैसा कि अक्सर होता है। सांसद के कर्मचारी कोई जवाब नहीं दे पाए। बस इतना बताया कि वो 20 जून को भारत लौटने वाले हैं। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं