शहीद की बेटी के समर्थन में उतरी कांग्रेस, AAP और वामदल

Monday, February 27, 2017

नई दिल्ली। दिल्ली यूनिवर्सिटी के रामजस कॉलेज में हुए विवाद और उसके बाद करगिल शहीद की बेटी के ABVP के खिलाफ कैंपेन पर सरकार और विपक्ष आमने-सामने आ गए हैं। एक तरफ जहां सरकार के मंत्रियों ने ये सवाल उठाए कि शहीद की बेटी गुरमेहर का दिमाग कौन खराब कर रहा है, वहीं दूसरी तरफ राहुल गांधी ने गुरमेहर का समर्थन किया है। अन्य विपक्षी दलों ने गुरमेहर का साथ दिया है।

पीएम को गधा बोला जाता है और कितनी आजादी चाहिए
केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू ने सवाल उठाया कि कोई भारत में रहकर जम्मू-कश्मीर और बस्तर की आजादी की मांग कैसे कर सकता है। नायडू ने कहा कि वैचारिक मतभेद हो सकते हैं लेकिन इस तरह अलगाववादियों की तरह बात करने वालों का समर्थन कहां तक जायज है। मंत्री वेंकैया नायडू ने अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के मुद्दे पर कहा, भारत में पीएम को नाम से बुलाया जाता है, गधा बोला जाता है और कितनी अभिव्यक्ति की आजादी चाहिए। 

मैं असहिष्णुता के खिलाफ उठने वाली हर आवाज के साथ: राहुल
राहुल गांधी ने गुरमेहर कौर का समर्थन किया है और कहा कि वो हर उस छात्र के साथ है जो असहनशीलता का मुद्दा उठाते हैं। कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी ने कहा, ‘‘किसी शख्स की सोच आपको पसंद नहीं आ सकती है लेकिन ऐसे लोगों से विवेकहीन धमकियां और सोशल साइट पर पीछा किया जाना जिन्हें भारत के प्रधानमंत्री फॉलो करते हैं। ये राज्य द्वारा खौफ और लोकतांत्रिक देशों के काम का सबसे बुरा रूप है।’’ 

गुरमेहर ने दिया था ABVP को हमले का जवाब 
गुरमेहर ने रामजस कॉलेज में हिंसा भड़काने के लिए आरएसएस से जुड़े एबीवीपी पर निशाना साधा था। उसने कहा था, ‘‘निर्दोष छात्रों पर एबीवीपी का निर्मम हमला बेहद परेशान करने वाला है और इसे रोका जाना चाहिए। ये हमला प्रदर्शनकारियों पर नहीं बल्कि लोकतंत्र की उस धारणा पर था जो हर भारतीय के दिल में बसी है।’’ गुरमेहर ने अपने फेसबुक स्टेटस में कहा, ‘‘यह इस देश में जन्मे हर नागरिक के आदर्श, नैतिकता, स्वतंत्रता और अधिकारों पर हमला है।’’

बीजेपी सांसद ने गुरमेहर पर निशाना साधा
दिल्ली विश्वविद्यालय की छात्रा को आड़े हाथों लेते हुए सिम्हा ने ट्वीट किया, ‘‘दाउद इब्राहिम ने कम से कम अपने राष्ट्रविरोधी रूख को न्यायोचित ठहराने के लिए पिता के नाम की बैसाखी का इस्तेमाल नहीं किया।’’ गुरमेहर का मजाक उड़ाने के लिए सिम्हा ने एक तस्वीर भी पोस्ट की जिसमें दाउद एक संदेश के साथ दिख रहा है, ‘‘मैंने 1993 में लोगों को नहीं मारा। बम ने उन्हें मारा।’’ 

मंत्री किरेन रिजिजू ने उठाए सवाल
रिजिजू ने भी छात्रा पर निशाना साधने के लिए ट्विटर का सहारा लिया। गृह राज्य मंत्री ने कहा, ‘‘इस युवा लड़की के दिमाग को कौन प्रदूषित कर रहा है? मजबूत सशस्त्र बलों ने जंग रोकी। भारत ने कभी किसी पर हमला नहीं किया लेकिन एक कमजोर भारत पर हमेशा चढ़ाई होती रही।’’ बाद में संवाददाताओं से बात करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘किसी को ऐसी बातें नहीं कहनी चाहिए जो नागरिकों और बलों को हतोत्साहित कर सकती हों। हर किसी को स्वतंत्रता है लेकिन इसका ये मतलब नहीं कि आप देश को कमजोर करने के लिए नारे लगाएं।

सभी को भाजपा की गुंडागर्दी के खिलाफ खड़ा होना चाहिए: केजरीवाल
कांग्रेस के अलावा आम आदमी पार्टी और माकपा ने भी इस मामले पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की और मांग की कि जिन लोगों ने गुरमेहर के साथ दुष्कर्म करने की धमकी दी उनके खिलाफ ‘‘कड़ी कार्रवाई’’ होनी चाहिए।  दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरमेहर का एक वीडियो पोस्ट किया जिसमें वो खुद को दुष्कर्म की धमकी के मुद्दे पर बात कर रही है। केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, ‘‘यह भाजपा है। वे हमारे देश को बर्बाद कर देंगे। सभी को उनकी गुंडागर्दी के खिलाफ खड़े होना चाहिए।’’ 

यह संघ और उसके संगठनों की संस्कृति: येचुरी
माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने कथित धमकी को संघ और उससे जुड़े संगठनों की ‘‘फासीवादी प्रवृत्ति’’ करार दिया। उन्होंने मांग की कि केंद्र सरकार को लोगों की जिंदगी की सुरक्षा और स्वतंत्रता सुनिश्चित करनी चाहिए। येचुरी ने आरोप लगाया, ‘‘यह बिल्कुल संघ और उसके संगठनों की संस्कृति है। वे विचारों की किसी बहुलता की इजाजत नहीं देंगे..ये फासीवादी प्रवृत्ति है। पूर्व महा न्यायवादी सोली सोराबजी ने कहा, ‘‘ये शर्मनाक है। ये नहीं हो सकता। आप महिलाओं को ऐसी धमकी नहीं दे सकते। यह गरिमापूर्ण नहीं है इसे सख्ती से रोका जाना चाहिए।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week