इस बाजार में धड़ल्ले से चल रहे पुराने नोट - क्लिक करें | No 1 Hindi News Portal of Central India (Madhya Pradesh) | हिन्दी समाचार

इस बाजार में धड़ल्ले से चल रहे पुराने नोट

Friday, November 11, 2016

;
कोलकाता। सारे देश में 500 एवं 1000 के नोट बंद हो गए। मोदी ने कहा, अस्पतालों में चलेंगे लेकिन अस्पताल भी नहीं ले रहे। रेलवे स्टेशन पर खुल्ले ना होने का कारण बताकर नहीं ले रहे। बाजार की हालत यह है कि 2 दिन से सबकुछ ठप पड़ा हुआ है। जितना कारोबार हो रहा है, सब उधार लेकिन एक बाजार है जहां पुराने नोट धड़ल्ले से चल रहे हैं। थोड़े फटे हों तो भी चल रहे हैं और वह है 'जिस्म का बाजार।'

कोलकाता की सोनागाछी की सेक्स वर्कर्स ने अपने ग्राहकों को खुला ऑफर दिया है। उन्होंने 500 और एक हजार के पुराने नोट स्वीकार करने का निर्णय लिया है। उनका कहना है कि आप इस सप्ताह तक आइए, उनकी सेवा लीजिए, वो पुराने नोट लेने को तैयार हैं। 

सेक्स वर्कर्स के लिए काम करने वाली दरबार महिला समन्वय कमेटी की भारती ने बताया कि जो हाइप्रोफाइल सेक्स वर्कर्स हैं, उन्हें दिक्कत नहीं हो रही है, लेकिन जो कम पैसे के लिए काम करती हैं, उन्हें समस्या आ रही है। खासकर, जो छोटे ग्राहकों से 300-400 वसूलती हैं। उनके पास ग्राहक नहीं आ रहे हैं। पिछले दो दिनों से उन्हें काफी दिक्कत हो रही है। 

उन्होंने बताया कि यहां आने से पहले ग्राहक यही पूछ रहे हैं कि आप पांच सौ या हजार के पुराने नोट लेंगे या नहीं। इसके बाद ही आगे की सौदेबाजी होती है। सेक्स वर्कर ने बताया कि हमारे पास और कोई चारा नहीं है। हमारी मजबूरी है कि हम पुराने नोट स्वीकार करें अन्यथा हमारे सामने आर्थिक संकट आ जाएगा। हमें खाने को भी लाले पड़ जाएंगे। 

उषा मल्टीपर्पस कॉपरेटिव बैंक के अधिकारियों के अनुसार सोनागाछी इलाके से पिछले दो दिनों में 55 लाख से भी अधिक रुपये जमा करवाए गए हैं। उन्होंने ये भी बताया कि आम तौर पर सेक्स वर्कर अपने पास नकद पैसा ही रखती हैं लेकिन नोट बंद हो जाने के बाद उनकी समस्या बढ़ गई है। वो हर रोज बड़ी मात्रा में नगदी जमा करा रहीं हैं। 
;

No comments:

Popular News This Week