6 महीने से बात नहीं कर रही थी, इसलिए बस से उतारकर चाकुओं से गोद डाला - क्लिक करें | No 1 Hindi News Portal of Central India (Madhya Pradesh) | हिन्दी समाचार

6 महीने से बात नहीं कर रही थी, इसलिए बस से उतारकर चाकुओं से गोद डाला

Thursday, November 3, 2016

;
सीधी। 28 अक्टूबर को यात्री बस से उतारकर सरेआम हुई छात्रा की हत्या के मामले में सारे राज खुल गए हैं। हत्यारोपी गिरफ्तार कर लिया गया है। उसने बताया है कि प्रेम प्रसंग के चलते यह हत्याकांड कारित किया गया। युवती पिछले 6 महीने से उससे बात नहीं कर रही थी। इसी से नाराज होकर उसने युवती की हत्या की। 

पुलिस पूछताछ में आरोपी शिवेंद्र सिंह ने बताया कि छात्रा संजू के साथ उसका प्रेम-प्रसंग चल रहा था। 6 महीने पहले दोनों की किसी बात को लेकर लड़ाई हो गई थी, उसके बाद से छात्रा ने आरोपी से बातचीत बंद कर दी थी। आरोपी ने कई बार छात्रा से मिलने की कोशिश की, लेकिन वह सफल नहीं हो सका। गुस्साए शिवेंद्र ने छात्रा की हत्या की योजना बना ली और 28 अक्टूबर को मौका मिलते ही उसने छात्रा की हत्या कर दी।

दीपावली मनाने जा रही थी छात्रा
पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक जिले के कुशमी की रहने वाली कॉलेज छात्रा संजू सिंह 28 अक्टूबर को दिवाली मनाने के लिए अपने घर जा रही थी। उसी वक्त आरोपी शिवेंद्र सिंह ने गोतरा गांव के पास बस को रोक लिया और छात्रा को बस से उतारकर उस पर चाकू से हमला कर दिया था। हमले में छात्रा की मौके पर ही मौत हो गई। वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी फरार हो गया था। 

बस में छात्रा से की थी छेड़छाड़
छात्रा रीवा से सीधी पहुंची थी। इसके बाद कुशमी जाने वाली महाबली ट्रेवल्स की बस में सवार हो गई थी। छात्रा के बारे पूरी जानकारी जुटाने के बाद आरोपी रास्ते में पड़ने वाले स्टॉप भदोरा से बस में सवार हुआ था। बस में चढ़ते ही आरोपी ने छात्रा के साथ छेड़छाड़ शुरू कर दी थी।छात्रा ने छेड़छाड़ का विरोध किया तो आरोपी ने बस में उसके साथ मारपीट की। इस दौरान बस में सवार यात्रियों ने आरोपी को पीछे की सीट पर बैठा दिया था।

अगले स्टॉप पर आरोपी ने किया हंगामा
आरोपी और छात्रा को अलग-अलग बैठाने के बाद बस अगले स्टॉप के लिए चल पड़ी थी। जैसे ही बस अगले स्टॉप पर पहुंची आरोपी ने बस से नीचे उतरकर हंगामा शुरू कर दिया। बस से सामने पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी और पेट्रोल से भरी गैलन लेकर बस में चढ़ गया था।आरोपी ने बस में सवार यात्रियों को डराया-धमकाया और छात्रा को नीचे उतारकर उसके साथ मारपीट की। इस दौरान ड्राइवर और कंडक्टर ने छात्रा को बचाने की कोशिश की तो आरोपी ने उन पर भी चाकू से हमला कर दिया। इस वारदात में कंडक्टर अशोक गुप्ता को गंभीर चोट आई थी।

मदद के लिए चिल्लाती रही छात्रा, देखते रहे लोग
आरोपी ने एक के बाद एक छात्रा पर कई हमले किए थे। इस दौरान छात्रा बार-बार लोगों से मदद मांगती रही, लेकिन कोई आगे नहीं आया। आरोपी के भाग जाने के बाद यात्रियों ने ही डायल 100 को वारदात की सूचना दी। लगातार हमले के कारण छात्रा की मौके पर ही मौत हो गई। परिजनों ने बताया कि संजू रीवा जिले के एक हॉस्टल में रहकर बीए सेकंड इयर की पढ़ाई कर रही थी। दिवाली की छुट्टियों में वह घर लौट रही थी, लेकिन रास्ते में शिवेंद्र ने उसकी हत्या कर दी।
;

No comments:

Popular News This Week