साक्षर भारत मिशन के प्रेरकों का वेतन 12 माह से बकाया है, दीपावली से पहले मिलेगा क्या

Monday, October 17, 2016

;
नीमच। मानव संसाधन विभाग तहत सेवारत साक्षर भारत मिशन के प्रेरको का नीमच जिला सहित मध्य प्रदेश में लगभग 12 माह का मानदेय बाकी चल रहा है जिसके अभाव में नीमच जिला सहित प्रदेश के प्रेरको की पारिवारिक स्थिति काफी हद तक दयनीय है। राज्य शासन द्वारा उदारतापूर्वक निर्णय लिया गया कि मध्य प्रदेश शासन वित्त विभाग भोपाल द्वारा जारी दिनांक 10 अक्टूबर 2016  के आदेश क्रमांक 1370/1947/2016/नियम/चार के अनुसार माह अक्टूबर 2016 का वेतन/पेंशन/ मजदूरी का भुगतान आगामी दिनांक 27 व् 28 अक्टूबर 2016 को दीपावली पर्व होने से शासकीय सेवको/पेंशनरों/दैनिक वेतनभोगी कर्मचारी को माह अक्टूबर 2016 के वेतन/पेंशन/मजदूरी का भुगतान करने का आदेश जारी किया गया है। 

क्या वित्त विभाग के इस आदेश का पालन साक्षर भारत मिशन में सेवारत प्रेरको के विगत लगभग 12 माह के बकाया मानदेय सहित माह अक्टूबर 2016 पर भी लागू कर प्रेरको को उनका मानदेय दिया जाएगा। या विगत लगभग 12 माह से बकाया मानदेय की राह तकते तकते यह दीपावली भी प्रेरको के लिए, काली ही होगी। इस गम्भीर समस्या सहित नीमच जिला सहित मध्य प्रदेश के हजारो  प्रेरको के परिवार के प्रति भी मध्य प्रदेश शासन वित्त विभाग को अपनी उदारता दिखाते हुए। प्रेरको के मानदेय का भुगतान भी कर्मचारियों व् शासकीय सेवको की भांति 27 व् 28 अक्टूबर 2016 को दीपावली पूर्व मानदेय का भुगतान किया जाना चाहिए ताकि मध्य प्रदेश के हजारो गरीब प्रेरक परिवार भी अपने घरो में दीपावली पर ख़ुशी के दिए जला सके। 

गोपालदास बैरागी (राष्ट्रिय सचिव), सुनील राजपूत (प्रदेश अध्यक्ष), राजेश तावड़ (प्रांतीय संगठन मंत्री), जगदीश जाट (सम्भागीय अध्यक्ष), जगदीश पाटीदार, दारासिंह सिसोदिया, अशोक मेघवाल, बालचन्द मंडोवरा आदि प्रेरको ने सम्बंधित विभाग सहित मध्य प्रदेश वित्त विभाग से गुहार लगाई है की इस प्रदेश व्यापी बकाया मानदेय की गम्भीर समस्या पर ध्यान केंद्रित कर हजारो प्रेरक परिवार को मानदेय प्रदान कर उचित न्याय प्रदान करे।
;

No comments:

Popular News This Week