प्रदर्शनकारी आ रहे थे, अधिकारियों ने खुद ही तालाबंदी कर ली - क्लिक करें | No 1 Hindi News Portal of Central India (Madhya Pradesh) | हिन्दी समाचार

प्रदर्शनकारी आ रहे थे, अधिकारियों ने खुद ही तालाबंदी कर ली

Wednesday, September 28, 2016

;
गोहद/भिंड। किसान कांग्रेस अपने ऐलान के अनुसार बिजली कंपनी की तालाबंदी करने के लिए कंपनी आॅफिस की ओर बढ़ रहे थे। अधिकारियों ने उन्हें आता देख आॅफिस में अंदर से ताला जड़ दिया। शायद यह बिजली कंपनी की ओर से संकेत था कि तुम कितना भी प्रदर्शन कर लो, हम तुम्हारी बात नहीं सुनेंगे। करीब 1 घंटे तक प्रदर्शनकारी बाहर डटे रहे और आॅफिस में अंदर काम चलता रहा। पुलिस आई, बातचीत शुरू करवाई तब कहीं जाकर मामला शांत हुआ। 

किसान कांग्रेस के प्रदेश महामंत्री आशीष गुर्जर के नेतृत्व में बिजली कंपनी की तालाबंदी को लेकर कृषि मंडी तिराहे से रैली निकालकर प्रदर्शन शुरू किया। कांग्रेस कार्यकर्ता कंपनी अधिकारियों के खिलाफ नारेबाजी करते नगर के प्रमुख मार्गों से होते हुए बिजली कंपनी पहुंचे। कार्यकर्ताओं के हंगामे के बाद एसडीएम डीके शर्मा और गोहद थाना प्रभारी यतेन्द्र सिंह भदौरिया मौके पर पहुंचे। प्रदर्शन के बाद एसडीएम ने कंपनी का दफ्तर खुलवाकर समस्या समाधान के लिए विस्तार से चर्चा की। जिसमें कांग्रेस ने 5 समस्याओं के समाधान की मांग की है।

बिजली समस्या को लेकर तालाबंदी करने पहुंचे किसान कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने डी शिवम कुमार से 5 बिंदुओं पर समस्याएं बताईं। जिसमें कार्यकर्ताओं पर दर्ज मुकद्दमा वापस लिया जाए, आकलित खपत से अधिक बिलों को सुधारा जाए, कीरतपुरा, इशलाम पुरा, शांति नगर और गांधी नगर में जर्जर हुए बिजली के तार बदले जाए, अघौषित कटौती रोकी जाए, जैसी समस्याओं के निवारण की मांग की गई। एसडीएम श्री शर्मा ने कार्यकर्ताओं को समझाते हुए कहा कि बिजली समस्या से संबंधित सभी प्रकरणों का समाधान प्रत्येक वार्ड में शिविर लगाकर किया जाएगा।

अब राज्यमंत्री का करेंगे घेराव
तालाबंदी कर रहे किसान कांग्रेस के प्रदेश महामंत्री श्री गुर्जर ने एसडीएम से कहा कि समस्याओं का समाधान जल्द ही नहीं किया गया तो वह 5 दिन बाद राज्यमंत्री लालसिंह आर्य के बंगले का घेराव कर जन आंदोलन छेड़ देंगे। आंदोलन कारियों में रेखा बसेड़िया, मेवाराम जाटव, मंडी डायरेक्टर केशव देसाई, गुड्डू भदौरिया, संग्रसमसिंह, नरोत्तम चौरसिया, तहसील शाह, बल्लू सेमर, अजीत शर्मा, शिवचरण जैन, अमित कुशवाह, सुल्तान सिंह, धर्मेंद्र गुर्जर, बीपी सिंह, उपेन्द्र वर्मा आदि कार्यकर्ता मौजूद थे।
;

No comments:

Popular News This Week