WhatsApp डाटा Facebook पर शेयर करने से कैसे रोकें - क्लिक करें | No 1 Hindi News Portal of Central India (Madhya Pradesh) | हिन्दी समाचार

WhatsApp डाटा Facebook पर शेयर करने से कैसे रोकें

Monday, August 29, 2016

;
मैसेजिंग सर्विस व्हाट्सऐप ने अपनी ग्लोबल प्राइवेसी पॉलिसी (वैश्विक गोपनीयता नीति) में सुधार किया है। इसके तहत अब वह यूजर्स के फोन नंबरों को अपनी मूल कंपनी फेसबुक के साथ साझा करेगी। अब व्हाट्सऐप ने घोषणा की है कि वह यूजर्स के फोन नंबर जैसे कुछ डाटा फेसबुक के साथ शेयर करेगी, जिससे यूजर्स के फेसबुक या इंस्टाग्राम यूज करते समय उसके हिसाब से विज्ञापन दिखाए जाएं।

इससे फेसबुक विज्ञापन देने वालों से 'एक्युरेसी ऑफ एडवरटाइजमेंट' के नाम पर ज्यादा पैसा ले पाएगा। मोबाइल नंबर शेयर करने से ग्राहकों को अपॉइंटमेंट रिमाइंडर, डिलीवरी और शिपिंग नोटिफिकेशन जैसी सेवाएं देने वाले ऑनलाइन बिजनेस कंपनियां भी फेसबुक से संपर्क करेंगी।

यदि आप अभी डाटा शेयरिंग की अनुमति देते हैं तो इससे त्वरित कोई नुकसान नहीं है, लेकिन भविष्य में आपके डाटा का कंपनी अपने हिसाब से इस्तेमाल कर सकती है। व्हाट्सऐप का इस्तेमाल छोड़ने पर आपके डाटा की सिक्युरिटी और डिस्पोजल पर भी फेसबुक या व्हाट्सऐप ने फिलहाल कोई बयान जारी नहीं किया है।

फोन का पूरा डेटा नहीं होगा शेयर
नई पॉलिसी एक्सेप्ट करने पर फोन का पूरा डाटा शेयर नहीं होगा। इसमें फोन नंबर, डिवाइस टाइप, सॉफ्टवेयर संबंधित जानकारी, लास्ट सीन स्टेटस शेयर होगा। व्हाट्सऐप के मैसेज भी कहीं शेयर नहीं होंगे। यहां तक कि इसे व्हाट्सऐप और फेसबुक के कर्मचारी भी नहीं पढ़ सकेंगे।यदि आप गलती से भी व्हाट्सऐप के नए टर्म्स एंड कंडीशन को स्वीकार कर चुके हैं तो भी घबराने की जरूरत नहीं है। इसके लिए बस आपको नीचे बताए गए ये काम करने होंगे।

  1. व्हाट्सऐप के सेटिंग मैन्यू में जाएं।
  2. फिर अकाउंट को सेलेक्ट करें।
  3. वहां आपको शेयर माई अकाउंट इंफो को सेलेक्ट करें।
  4. इसे अनचेक कर 'टर्म्स एंड कंडीशन' रिजेक्ट करें।
  5. ध्यान रखें कि इस ऑप्शन को क्लिक करने के लिए केवल 30 दिनों का समय ही उपलब्ध होगा।


नई पॉलिसी संबंधी पॉप-अप आए को यह करें
आपके व्हाट्सऐप पर उसकी नई पॉलिसी का पॉपअप आए तो agree का बटन क्लिक नहीं करें।
इसके रीड मोर ऑप्शन पर जाएं।
चेकबॉक्स के सामने 'शेअर माई व्हाट्सऐप अकाउंट इंफॉर्मेशन विद फेसबुक' लिखा नजर आएगा, उसे आप अनचेक कर दें।
ऐसा करने के बाद आपका व्हाट्सऐप डाटा फेसबुक के साथ शेयर नहीं हो पाएगा।

हालांकि, जब फेसबुक ने व्हाट्सऐप को 2014 में खरीदा था, उस समय व्हाट्सऐप सीईओ जैन कौम ने कहा था कि यह डील यूजर्स के डाटा प्राइवेसी को प्रभावित नहीं करेगी। फेसबुक द्वारा 2014 में 19 अरब डॉलर (करीब 1273 करोड़ रुपए) में अधिग्रहण करने के बाद से यह पहला मौका है, जब व्हाट्सऐप ने अपनी प्राइवेसी पॉलिसी में सुधार किया है। फेसबुक फोटो शेयरिग प्लेटफार्म इंस्टाग्राम का भी संचालन करता है।
;

No comments:

Popular News This Week