MP NEWS - शिवपुरी से पार्टी मनाने निकले ADPO लापता, दोस्त की डेड बॉडी के साथ कार नदी में मिली - UPDATE

मध्य प्रदेश के शिवपुरी जिले की पिछोर तहसील में पदस्थ ADPO रविवार को अपने एक व्यापारी मित्र के साथ रवाना हुए थे। अब तक वापस नहीं लौटे। हैं उनकी कार नदी के ऊपर बने एक क्षतिग्रस्त पुल के नीचे मिली है। इस पुल पर ट्रैफिक बंद है। कार के अंदर उनके व्यापारी मित्र की डेड बॉडी भी मिली है। 

ADPO अपने व्यापारी दोस्त के साथ संडे पार्टी के लिए निकले थे

पिछोर टीआई रत्नेश यादव के अनुसार, बुधना नदी में से कार बाहर आने के उपरांत जब कार की पहचान की गई तो कार पिछोर न्यायालय में पदस्थ एडीपीओ राकेश रोशन की निकली, लेकिन कार में जो शव मिला। उसकी पहचान शिवम गुप्ता के रूप में हुई। पुलिस ने जब एडीपीओ राकेश रोशन की तलाश की तो उनका भी कोई सुराग नहीं लगा। इसी दौरान पुलिस को नया चौराहा निवासी केदारनाथ सेन नामक युवक मिला। उसने पुलिस को बताया कि एडीपीओ राकेश रोशन, शिवम गुप्ता रविवार को पार्टी मनाने के लिए माताटीला जाने के लिए रवाना हुए थे। उनके साथ कार में वह भी था, परंतु वह नया चौराहा पर उतर गया था। ऐसे में कार नदी में कैसे पहुंची इसे लेकर संशय बना हुआ है। 

जिस पुल के नीचे कार मिला वह तो पहले से ही बंद है

पुलिस प्रथम दृष्टया इसे हादसा मान कर चली रही है, परंतु कार में एडीपीओ का शव नहीं है और न ही उनका शव नदी में कहीं मिला है। ऐसे में फिलहाल पुलिस मामले को संदिग्ध भी मान रही है, लेकिन उससे पहले नदी में एडीपीओ के शव की तलाश भी की जा रही है। जिस पुल के नीचे पुलिस को कार मिली है, वह पुल पूरी तरह से क्षतिग्रस्त है और उस पुल से वाहनों का आना-जाना असंभव है। ऐसे में कार उस पुल के नीचे कैसे पहुंची, यह भी जांच का विषय है। पुलिस के अनुसार, कार जिस पुल के नीचे मिली है, वहां से गिरना संभव नहीं है। ऐसे में यह भी पता किया  जा रहा है कि कहीं कार किसी अन्य रपटे से बहकर तो यहां तक नहीं आई है।

कार में शराब की बोतलें मिली

नदी में निकली कार में पुलिस को शराब की बोतलें भी मिली हैं। इसके अलावा पुलिस को प्रारंभिक पूछताछ में यह भी पता चला है कि कार में सवार शिवम गुप्ता व एडीपीओ राकेश रोशन दोनों ने पिछोर से निकलने से पहले ही शराब पी ली थी और दोनों हल्के नशे में थे। ऐसे में यह भी माना जा रहा है कि हो सकता है कि किसी पुल अथवा रपटे को पार करते हुए कार अनियंत्रित होकर नदी में गिर गई हो। हालांकि कार नदी में गिरती तो कार में एडीपीओ का शव भी मिलना था, लेकिन एडीपीओ का शव कार में नहीं है। 

फिलहाल ग्रामीणों की सूचना पर कार व शव बरामद कर मर्ग कायम कर लिया है। इसके अलावा अभी तक न तो एडीपीओ का कोई सुराग लगा है और न ही कार में उनका शव बरामद हुआ है। हम प्रथम दृष्टया इसे हादसा मानकर उनके शव की तलाश कर रहे हैं। आगे जो भी तथ्य सामने आएंगे उनके आधार पर मामले में कार्रवाई की जाएगी। - रत्नेश यादव, टीआई, पिछोर 

UPDATE 09 JULY 2024 - देर शाम तक नदी में एडीपीओ की तलाश की गई, अंधेरा होने पर रेस्क्यू बंद कर दिया गया। आज सुबह फिर तलाश करने पर दोपहर करीब 12 बजे उनका शव मनबुली गांव के पास मिला।

विनम्र निवेदन: 🙏कृपया हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें। सबसे तेज अपडेट प्राप्त करने के लिए टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें एवं हमारे व्हाट्सएप कम्युनिटी ज्वॉइन करें। इन सबकी डायरेक्ट लिंक नीचे स्क्रॉल करने पर मिल जाएंगी। कर्मचारियों से संबंधित महत्वपूर्ण समाचार पढ़ने के लिए कृपया स्क्रॉल करके सबसे नीचे POPULAR Category में employee पर क्लिक करें।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !