BHOPAL NEWS - निधि सक्सेना लखनऊ से गिरफ्तार लेकिन अल्ताफ फरार, मिथिल भी लापता

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में हबीबगंज थाना पुलिस ने निधि सक्सेना को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से गिरफ्तार कर लिया है। पिछले 7 महीने से पुलिस उसकी तलाश कर रही थी। अन्य आरोपी निधि का बेटा मिथिल और निधि का दोस्त अल्ताफ अभी भी फरार है। 

CRIME STORY - भोपाल की अरेरा कॉलोनी में एक हंसता खेलता परिवार था

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की सबसे हाई प्रोफाइल कॉलोनी, अरेरा कॉलोनी में श्री सीएस सक्सेना, अपनी पत्नी कनक सक्सेना और मानसिक रूप से कमजोर बेटे विक्की के साथ रहते हैं। बड़ी बेटी निधि की शादी सान 2002 में लखनऊ उत्तर प्रदेश में रहने वाले एक आर्मी ऑफिसर से कर दी थी। सन 2016 में निधि अचानक अपने दोनों बेटों को लेकर भोपाल आ गई और माता-पिता के रहने लगी। पिता ने सोचा कि बेटी और दामाद में कुछ समय में सुलह हो जाएगी और सब कुछ सामान्य हो जाएगा परंतु ऐसा नहीं हुआ। 

पुलिस ने बुजुर्ग की दंपति और उनके बेटे को रेस्क्यू किया

पुलिस को सूचना मिली कि अरेरा कॉलोनी में एक बुजुर्ग दंपति को बंधक बनाकर रखा गया है। सूचना के आधार पर जब पुलिस ने रेस्क्यू ऑपरेशन किया तो श्री सीएस सक्सेना, श्रीमती कनक सक्सेना और उनका बेटा विक्की, कमरे में बंद पाए गए। कनक और विक्की के शरीर पर चोट के निशान थे। पुलिस ने बुजुर्ग दंपती को जब तक अस्पताल पहुंचाया, निधि अपने दोनों बेटों के साथ पिता की गाड़ी लेकर फरार हो चुकी थी। दिनांक 21 जून 2023 को श्री सीएस सक्सेना की शिकायत पर उनकी बेटी निधि सक्सेना, निधि के बेटे मिथिल सक्सेना और निधि के लखनऊ वाले दोस्त अल्ताफ अहमद के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। 

जिस बेटी को नाजों से पाला, वही अत्याचार करने लगी

श्री सीएस सक्सेना ने अपनी शिकायत में बताया कि, मायके आने के बाद निधि उनसे पैसों की मांग करती थी। नहीं देने पर मारपीट करती थी। परिवार में तीनों को शारीरिक रूप से प्रताड़ित कर रही थी। इस प्रकार उसने एक करोड रुपए ले लिए थे। श्री सीएस सक्सेना ने यह भी बताया कि उसने ज्यादातर पैसे लखनऊ में रहने वाले अल्ताफ अहमद के अकाउंट में ट्रांसफर किए हैं। अब भोपाल पुलिस को निधि, उसके दोस्त अल्ताफ और उसके बेटे मिथिल की तलाश थी। निधि लगातार अपना मोबाइल नंबर बदल रही थी। इसलिए उसे पकड़ना काफी मुश्किल हो रहा था। 

सारी रात रेलवे स्टेशन पर बैठी रही पुलिस देखने तक नहीं आई

अरेरा कॉलोनी में पुलिस को चकमा देने के बाद निधि पूरी रात रानी कमलापति स्टेशन में बैठी रही। जिस कार को लेकर वह फरार हुई थी, वह कार रानी कमलापति स्टेशन की पार्किंग में सारी रात खड़ी रही, लेकिन पुलिस ने उसे तलाश करने की कोशिश ही नहीं की। नहीं तो उसी रात निधि को पकड़ लिया जाता। अगली सुबह ट्रेन पकड़कर लखनऊ पहुंची थी। यहां उसके दोस्त अल्ताफ ने उसे एक किराए का घर दिलाया था।

निधि की लोकेशन कभी लखनऊ कभी चेन्नई

हबीबगंज टीआई मनीष राज सिंह ने बताया- निधि जानती थी कि पुलिस उसके पीछे लखनऊ जरूर आएगी। लखनऊ पहुंचते ही उसने अपना नंबर बंद कर दिया। कुछ दिन बाद जब उसका नंबर ऑन हुआ तो लोकेशन चेन्नई की मिल रही थी। पुलिस की एक टीम टावर लोकेशन को फॉलो कर चेन्नई पहुंची। मनीष सिंह ने कहा- वहां हमें निधि नहीं मिली। उसका नंबर भी बंद हो गया। पुलिस को खाली हाथ लौटना पड़ा। हालांकि, उसका नंबर सर्विलांस पर रखा गया था। कुछ दिन बाद यही नंबर लखनऊ में ऑन हुआ। हम लखनऊ पहुंचे, लेकिन चेन्नई की तरह यहां भी वही हुआ। 

पुलिस लापरवाह हुई तो निधि भी लापरवाह हो गई

इसके बाद पुलिस ने निधि को फॉलो करना बंद कर दिया। उसकी गिरफ्तारी के सभी प्रयास बंद कर दिए गए। इसके कारण निधि स्वयं को स्वतंत्र महसूस करने लगी। उसने खुले आम लोगों से बातचीत करना शुरू कर दिया। यहां तक कि उसने भोपाल में रहने वाले अपने माता-पिता को भी फोन लगाया। माता-पिता ने इसकी जानकारी पुलिस को दी परंतु पुलिस ने इस जानकारी को इग्नोर कर दिया। इधर लखनऊ में निधि का मोबाइल नंबर लगातार एक्टिव बना रहा। जब निधि पूरी तरीके से लापरवाह हो गई और पुलिस को पक्का यकीन हो गया कि निधि लखनऊ में है। उसकी पिन पॉइंट लोकेशन मिल गई तो उसे गिरफ्तार कर लिया। 

निधि ने अल्ताफ को 40 लाख रुपए दिए

पुलिस इन्वेस्टिगेशन के दौरान पाया गया कि निधि सक्सेना ने अपने पिता से कुल 80 लाख रुपए लिए हैं। इसमें से 40 लाख रुपए उसने अल्ताफ अहमद के अकाउंट में ट्रांसफर किए। पुलिस ने निधि और अल्ताफ के बीच के कनेक्शन के बारे में अभी पत्रकारों को कुछ नहीं बताया है परंतु निधि के पिता का कहना है कि, अल्ताफ ने उनकी बेटी निधि का ब्रेन वॉश कर दिया है। श्री सक्सेना ने बताया कि 2016 में जब निधि घर आई तो हमें कुछ भी नहीं पता था। जब उसने पैसों के लिए झगड़ा करना शुरू किया तब हमने अपने दामाद को फोन लगाया। तब पता चला कि वह तो रिश्ता तोड़कर आई है। उसने अपने पति से 3 करोड रुपए की मांग की है। 

अल्ताफ ने मेरी बेटी का ब्रेनवाश कर दिया

श्री सक्सेना ने बताया कि जब हमने निधि से इसका कारण पूछा तो उसने कहा कि पति हमेशा बाहर रहते हैं। ससुर उसके सामने हरकत करते हैं। कुछ दिनों बाद निधि का दोस्त अल्ताफ अहमद भोपाल घर आ गया। तब हमें समझ में आया कि अल्ताफ ने निधि का ब्रेन वॉश कर दिया है। वह दोनों मिलकर हमारा घर बेचना चाहते हैं। इसीलिए हमें प्रताड़ित कर रहे हैं ताकि हम जल्दी से मर जाएं। निधि की गिरफ्तारी के बाद श्री सक्सेना ने कहा कि जब तक अल्ताफ गिरफ्तार नहीं हो जाता तब तक मैं स्वयं को सुरक्षित महसूस नहीं कर पाऊंगा। उन्होंने कहा कि मैं निधि को अब कभी माफ नहीं कर सकता। 

⇒ पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार पढ़ने के लिए कृपया यहां क्लिक कीजिए। इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें। यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल - व्हाट्सएप ग्रुप पर कुछ स्पेशल भी होता है।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !