MP BOARD EXAM - 10वीं 12वीं के विद्यार्थी सावधान, नहीं तो बेवजह नकल प्रकरण बन जाएगा

Madhya Pradesh Board of Secondary Education Bhopal से संबंधित सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में कक्षा 10 और कक्षा 12 की वार्षिक परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं विद्यार्थियों के लिए अति आवश्यक समाचार है। इस बार उन्होंने कुछ अतिरिक्त सावधानियां बरतनी होगी नहीं तो आप नकल नहीं करेंगे तब भी आपके खिलाफ नकल प्रकरण बन जाएगा। 

मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल, नकल के नाम पर नए-नए नियम बना रहा है

पिछले साल स्कूल शिक्षा विभाग के शिक्षक, माध्यमिक शिक्षा मंडल मध्य प्रदेश, भोपाल से संबंधित कर्मचारी और बोर्ड परीक्षा में लगे हुए प्राइवेट लोगों ने जमकर नकल कराई। खुले आम पेपर लीक हुए। सोशल मीडिया पर वायरल हुई। परीक्षा कक्ष में कहीं ब्लूटूथ तो कहीं सामूहिक नकल के मामले सामने आए। परीक्षा आयोजित करने वाला माध्यमिक शिक्षा मंडल, मध्य प्रदेश, भोपाल कुछ नहीं कर पाया। इस बार मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल ने परीक्षा से पहले ही हाहाकार मचाना शुरू कर दिया है। सिस्टम बनाने के नाम पर स्वयं को छोड़कर छात्रा से लेकर कलेक्टर तक सबको जिम्मेदार बनाना शुरू कर दिया है। 

विद्यार्थियों को इन बातों का भी ध्यान रखना होगा

समाचार मिला है कि, इस बार प्रश्नपत्रों के बंडलों को थाना से निकालने और वितरित करने में कई सुरक्षा इंतजाम किए गए हैं। प्रश्नपत्रों के साथ कोरी उत्तरपुस्तिकाओं का वितरण और क्रमांकवार किया जाएगा। अगर उत्तरपुस्तिका की सिलाई उखड़ी, टूटी या कम पेज होने पर किसी भी विद्यार्थी को वितरित नहीं की जाए। ऐसी उत्तरपुस्तिका का मूल्यांकन नहीं किया जाएगा, बल्कि नकल प्रकरण में दर्ज होगा। 
हम सभी जानते हैं की परीक्षा कक्षा में शिक्षक कुछ भी कर सकते हैं। इसलिए विद्यार्थियों को सबसे पहले यह चेक करना है कि उनके उत्तर पुस्तिका की सिलाई उखड़ी हुई तो नहीं है। टूटी हुई तो नहीं है। उत्तर पुस्तिका के पेजों की संख्या कम तो नहीं है अथवा ज्यादा तो नहीं है। यदि ऐसा कुछ भी है तो आपत्ति दर्ज कारण और दूसरी उत्तर पुस्तिका प्राप्त करें। यदि परीक्षा कक्षा में दूसरी उत्तर पुस्तिका उपलब्ध नहीं कराई जाती तो परीक्षा से बाहर निकलते ही इसके लिखित शिकायत करें। 

ओएमआर शीट भरने का तरीका

  • ओएमआर शीट भरने के लिए अलग से ब्लैक पेन लेकर जाएं। 
  • गोले को पूरी तरीके से भरें। उसके अंदर डॉट या राइट का निशान लगा कर नहीं छोड़े। 
  • सर्किल की बाउंड्री के बाहर पेन ना चलाएं। 
  • कन्फ्यूजन की स्थिति में परीक्षा कक्षा में उपस्थित शिक्षक से सवाल करें। 

⇒ पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार पढ़ने के लिए कृपया यहां क्लिक कीजिए। इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें। यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल - व्हाट्सएप ग्रुप पर कुछ स्पेशल भी होता है।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !