मध्यप्रदेश का नारी सशक्तिकरण मॉडल 26 जनवरी को पूरी दुनिया देखेगी - MP NEWS

वक्त आ गया है जबकि ऐलान कर दिया जाए कि मध्य प्रदेश, महिलाओं की शिक्षा, सुरक्षा और संरक्षण के लिए भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदेश है। मध्य प्रदेश का नारी सशक्तिकरण मॉडल 26 जनवरी को राजधानी दिल्ली में गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान पूरी दुनिया के सामने प्रदर्शित किया जाएगा। 

मध्य प्रदेश के विकास का मूल मन्त्र - आत्मनिर्भर नारी

भारत सरकार द्वारा इस वर्ष झांकियों के लिए राज्यों को ‘विकसित भारत’ एवं ‘मदर ऑफ़ डेमोक्रेसी’ (लोकतंत्र की जननी) में से एक विषय पर झाँकी का विषय चुनकर तैयारी के निर्देश दिए गए थे। इसी क्रम में मध्यप्रदेश ने विकसित भारत विषय के अंतर्गत मध्यप्रदेश के नारी सशक्तिकरण मॉडल पर आधारित ‘विकास का मूल मन्त्र- आत्मनिर्भर नारी’ पर केन्द्रित झाँकी की रूपरेखा तैयार की है। प्रदेश की महिला शक्ति को दर्शाती इस झाँकी में देश की पहली महिला फाइटर पायलट रीवा की अवनी चतुर्वेदी और मिलेट वुमन ऑफ़ इंडिया के रूप में पहचानी जाने वाली सुश्री लहरी बाई की प्रतिकृतियों के साथ, स्व-सहायता समूहों की महिलाओं द्वारा किये गए कार्य, महिला बुनकरों द्वारा निर्मित विश्वप्रसिद्ध चंदेरी, महेश्वरी और बाग प्रिंट साड़ियाँ, विभिन्न धान, विश्वप्रसिद्ध गौंड चित्रकारी, म्यूरल आर्ट, प्रदेश की स्टोन कार्विंग (शिला-शिल्प) अनाज से निर्मित भित्ति चित्र के साथ मालवा की महिला कलाकारों द्वारा लोकनृत्य का प्रदर्शन भी किया जाएगा। 

गणतंत्र दिवस समारोह में नई दिल्ली के कर्तव्य पथ पर प्रदेशवासियों को लम्बे अंतराल के बाद इस वर्ष मध्यप्रदेश की झाँकी दिखाई देगी। इससे पहले मध्यप्रदेश को यह अवसर वर्ष 2019 में मिला था। ✒ सुनील वर्मा.

⇒ पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार पढ़ने के लिए कृपया यहां क्लिक कीजिए। ✔ इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें  ✔ यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें। ✔ यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल - व्हाट्सएप ग्रुप पर कुछ स्पेशल भी होता है।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !