BHOPAL नगर निगम कर्मचारियों ने की आंदोलन की तैयारी, अनिश्चितकालीन कामबंद हड़ताल होगी

भोपाल।
मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में कर्मचारियों ने सोमवार यानी 12 दिसंबर से अनिश्चितकालीन कामबंद हड़ताल शुरू करने का ऐलान किया है। कर्मचारियों ने कहा कि 13 हजार कर्मचारियों को यदि नियमित नहीं किया गया तो 12 दिसंबर से अनिश्चितकालीन कामबंद हड़ताल शुरू कर देंगे। फायर से लेकर वार्ड-जोन ऑफिसों में तालाबंदी कर देंगे। पानी, सफाई, फायर समेत कई जरूरी सेवाएं ठप हो सकती है। 

छह सूत्रीय मांगों को लेकर कर्मचारियों ने यह रूख अख्तियार किया है। इसे लेकर 12 कर्मचारी संगठन एकजुट हो गए  इससे सफाईकर्मी से लेकर फायर, वार्ड-जोन ऑफिस के कर्मचारी धरने में शामिल हो गए। सबका कहना था कि चार दिन के भीतर निगम मांगों का निराकरण कर दें, वरना 12 दिसंबर से वे काम पर नहीं आएंगे। पिछले तीन दिन से वे काली पट्‌टी बांधकर काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यदि मांगें नहीं मानी गई तो उग्र प्रदर्शन करेंगे

इन मांगो को लेकर प्रदर्शन

वर्षों से कार्यरत नगर निगम के दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों को नियमित किया जाए।
निगम के स्थायी विनियमित कर्मचारियों को न्यायालयीन आदेश, शासन आदेश, परिषद संकल्प के अनुसार शैक्षणिक योग्यता को ध्यान में रखकर शीघ्र नियमित वेतनमान पर नियुक्त किया जाए।
नियमित कर्मचारियों को योग एवं पात्रताधारी तृतीय एवं चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों को पदोन्नति दी जाए।
अधिकारी-कर्मचारियों को मूल विभाग में वापस किया जाए।
सातवें वेतन की अंतिम किश्त का भुगतान जल्द किया जाए।

नियमित अधिकारी-कर्मचारियों की सेवा के दौरान मृत्यु होने पर अनुकंपा नियुक्त बिना किसी विलंब के आश्रित को दी जाए। वहीं, स्थायीकर्मी दैनिक वेतनभोगी कर्मी की मृत्यु होने पर मानवीय आधर पर विशेष प्रकरण के तहत आश्रित को दैनिक वेतनभोगी पर रखने की मंजूरी दी जाए। जितने भी यह प्रकरण लंबित है, उनका निराकरण किया जाए।
निगम में वित्तीय स्थिति के दृष्टिगत आवश्यकता से अधिक एवं अवधि पूर्ण करने वाले प्रतिनियुक्ति पर पदस्थ