शिक्षा मंत्री जी, एमए अंग्रेजी अतिथि शिक्षक स्कोर कार्ड में गड़बड़ी है, कृपया ठीक करवा दीजिए- Khula Khat

आदरणीय महोदय जी
, वर्तमान शैक्षणिक सत्र मे हो रही अतिथिशिक्षक भर्ती मे शासकीय शालाओं मे पिछले सत्रों से सेवा दे रहे अंग्रेजी विषय के उन अतिथिशिक्षकों का चयन वर्तमान सत्र मे मुश्‍किल नजर आ रहा है जो एमए अंग्रेजी विषय से है व पिछले सत्र मे शासकीय मिडिल एवं हाईस्‍कूल मे सेवा दे रहे थे। 

क्‍योंकि वर्तमान सत्र 2022-23 मे उनके स्‍कोर कार्ड मे सिर्फ SSS1 का पैनल शो हो रहा है जबकि सत्र 2019-20 के स्‍कोर कार्ड मे उनके स्‍कोर कार्ड मे SSS2 का पैनल भी शो हो रहा था जो इस नये स्‍कोर कार्ड मे नहीं है जबकि शैक्षणिक सत्र 2018-19 मे बीए अंग्रेजी वाले आवेदक न मिलने से एमए अंग्रेजी वाले अतिथिशिक्षकों का चयन मिडिल एवं हाईस्‍कूलों मे किया गया था। 

माननीय उच्‍च न्‍यायालय द्वारा WP/18935/2018 दिये गये निर्देशानुसार जिन विद्यालयों मे 2021-22 मे पूर्व से अतिथि‍ शिक्षक पैनल उपलब्‍ध है वहॉं यथावत पूर्व से कार्य करने वाले अतिथि शिक्षकों को रखने का निर्देश स्‍कूल शिक्षा विभाग द्वारा दिया गया है परंतु वर्तमान सत्र के स्‍कोर कार्ड मे एमए अंग्रेजी वालों के स्‍कोर कार्ड मे SSS2 पैनल न दिखने से उनको शायद बाहर कर दिया जाए क्‍योंकि संकुल स्‍तर से उनके अनुमोदन होना मुश्‍किल प्रतीत हो रहा है। 

अतिथि शिक्षक पद अस्‍थायी है इसलिए सरकार को अतिथि शिक्षकों को बार बार बदलने के स्‍थान पर उनके कल्‍याण पर नीति बनाकर ध्‍यान देना चाहिए। साथ ही वर्ग 3 शिक्षक भर्ती का परीक्षा परिणाम घोषित करने व जल्‍द भर्ती पर ध्‍यान देना चाहिए ताकि स्‍कूलों की दशा सुधर सके क्‍योंकि प्राथमिक शिक्षा ही जीवन का आधार होती है परंतु सरकार का ध्‍यान 15 वर्षों से सेवा दे रहे इस अतिथि शिक्षक वर्ग के कल्‍याण पर न होकर कभी आनलाइन, कभी स्‍कोर कार्ड के आधार पर उनको बदलने पर लगा हुआ है। 

जबकि ध्‍यान पर्याप्‍त शिक्षक उपलब्‍ध करने व शैक्षणिक सुधार पर होना था। इसलिए माननीय शिक्षा मंत्री जी से निवेदन है कि एमए अंग्रेजी वाले अतिथि शिक्षकों के स्‍कोर कार्ड मे पूर्व की भांति SSS2 भी जोड़े या फिर स्‍पष्‍ट निर्देश प्रत्‍येक जिले मे भेजे के पूर्व से मिडिल हाईस्‍कूल मे सेवा दे रहे एमए अंग्रेजी वाले अतिथि शिक्षकों को न हटाया जाए व पूर्व की भांति इस सत्र मे भी सेवा का अवसर दिया जाए।

सादर धन्‍यवाद
आशीष कुमार बिरथरिया
उदयपुरा जिला रायसेन म.प्र 

अस्वीकरण: खुला-खत एक ओपन प्लेटफार्म है। यहां मध्य प्रदेश के सभी जागरूक नागरिक सरकारी नीतियों की समीक्षा करते हैं। सुझाव देते हैं एवं समस्याओं की जानकारी देते हैं। पत्र लेखक के विचार उसके निजी होते हैं। इससे पूर्व प्रकाशित हुए खुले खत पढ़ने के लिए कृपया Khula Khat पर क्लिक करें. यदि आपके पास भी है कुछ ऐसा जो मध्य प्रदेश के हित में हो, तो कृपया लिख भेजिए हमारा ई-पता है:- editorbhopalsamachar@gmail.com