MPPSC NEWS- अध्यक्ष और सदस्यों की ऑडियो वायरल करने वालों को चेतावनी

Madhya Pradesh Public Service Commission Indore
द्वारा उन सभी उम्मीदवारों एवं अन्य लोगों के नाम चेतावनी जारी की गई है जो मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष एवं अन्य सदस्यों की बातचीत बिना अनुमति के रिकॉर्ड करते हैं और वायरल कर रहे हैं। एमपीपीएससी के नोटिस में लिखा है कि ऐसे लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। 

मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग का नोटिस इस प्रकार है, संज्ञान में आया है कि कतिपय व्यक्तियों द्वारा आयोग के माननीय अध्यक्ष/ सदस्यगणों से परीक्षा प्रक्रिया एवं न्यायालयीन प्रकरणों के संबंध में माननीय न्यायालय के आदेश पारित होने के तुरन्त बाद अथवा समाचार पत्रों में प्रतियोगी परीक्षाओं के संबंध में प्रकाशित समाचार के विषय में तत्काल प्रतिक्रिया जानने के लिए उनके व्यक्तिगत मोबाइल / दूरभाष / ई-मेल पर संपर्क करने का प्रयास किया जाता है, जिससे कई अवसरों पर माननीय अध्यक्ष / सदस्यों के प्रशासनिक एवं पदीय कर्तव्यों के निर्वहन में व्यवधान उत्पन्न हो रहा है। 

साथ ही ऐसे व्यक्तियों द्वारा Voice Recording कर तथ्यों को तोड़-मरोड़कर Audio Recording को Viral भी किए जाकर परीक्षाओं की प्रक्रिया के संबंध में भ्रम उत्पन्न करने का प्रयास किया जाता है। ऐसे सभी कृत्य आयोग की कार्य प्रणाली में हस्तक्षेप की श्रेणी में आते हैं। ऐसे व्यक्तियों के विरुद्ध वैधानिक कार्यवाही की जाएगी। अतः अपेक्षित है कि माननीय अध्यक्ष/सदस्यगणों से किसी भी प्रकार से सम्पर्क का प्रयास नहीं किया जाए।