मध्य प्रदेश शिक्षक भर्ती सेकंड काउंसलिंग के लिए ज्ञापन, 8000 रिक्त पदों की भर्ती होगी- MP Rojgar Samachar

भोपाल
। मंगलवार को शिक्षक पात्रता परीक्षा उत्तीर्ण अभ्यर्थियों ने लोक शिक्षण संचालनालय कार्यालय पहुंचकर आयुक्त के नाम ज्ञापन पत्र सौंपा और स्थाई शिक्षकों के लिए द्वितीय काउंसलिंग कराने की मांग की।

ज्ञापन पत्र में मांग की गई है कि शिक्षक भर्ती के लिए द्वितीय काउंसलिंग में पूर्व से चयनित अभ्यर्थियों के नामों की पुनरावृत्ति ना हो। प्रथम चरण में देखा गया है कि स्कूल शिक्षा विभाग एवं जनजातीय विभाग द्वारा एक ही अभ्यर्थी का नाम दोनों वर्गों में एवं दोनों विभागों में सम्मिलित कर दिया गया है जिससे वैटिंग एवं अन्य पात्र अभ्यर्थियों ने आपत्ति जताई है।

रणजीत गौर, सुयश श्रीवास्तव सहित अन्य अभ्यर्थियों ने ज्ञापन सौंपने के बाद बतलाया कि स्थाई शिक्षक भर्ती प्रक्रिया लगभग पिछले 3 वर्षों से बड़े धीमी गति से चल रही है। अभी तक प्रथम चरण पूरा नहीं किया गया है। अतः द्वितीय काउंसलिंग कर शेष पात्र अभ्यार्थियों को भी शीघ्र नियुक्तियां प्रदान की जाएं।

स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा शिक्षक भर्ती के प्रथम चरण में उच्च माध्यमिक शिक्षकों के 15,000 एवं माध्यमिक शिक्षकों के 5,670 पदों पर भर्ती पूर्ण होना थी। जिसमें से भी कई चयनित अभ्यर्थी अभी भी अपनी नियुक्ति की मांगों को लेकर लोक शिक्षण संचालनालय के सामने विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। 

अभ्यावेदन निराकरण संबंधित कुछ विषयों की चयन सूचियां भी मंगलवार को शिक्षा विभाग द्वारा जारी कर दी गई हैं।

लोक शिक्षण संचालनालय के अधिकारियों द्वारा शिक्षक भर्ती के द्वितीय चरण में उच्च माध्यमिक शिक्षकों के 3,000 एवं माध्यमिक शिक्षकों के लगभग 5,000 पदों पर स्थाई शिक्षकों की भर्ती की बात कही जा रही है।

ज्ञापन पत्र में समस्त विषयों को समान रूप से महत्व देते हुए शिक्षक भर्ती पूर्ण कराने की मांग भी प्रमुखता से की गई है। 
उच्च शिक्षा, सरकारी और प्राइवेट नौकरी एवं करियर से जुड़ी खबरों और अपडेट के लिए कृपया MP Career News पर क्लिक करें.