MP NEWS- पब्लिक ने बिजली कंपनी के अधिकारी को जमकर कूटा, लोक अदालत का मामला

भोपाल
। मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले में लोक अदालत के दौरान उपभोक्ताओं को जेल भेजने की धमकी दे रहे बिजली कंपनी के असिस्टेंट इंजीनियर रंजीत भदौरिया की पब्लिक ने जमकर पिटाई लगा डाली। इतना मारा कि रंजीत भदौरिया के कान से खून निकलने लगा। 

बिजली कंपनी ने बिजली के बिलों को लेकर होने वाले विवादों के निपटारे के लिए लोक अदालत का आयोजन किया था। ग्रामीण अंचल से बड़ी संख्या में किसान आए हुए थे। बिजली कंपनी ने अपना काउंटर लगा रखा था। बिजली कंपनी का सिक्योरिटी गार्ड भी मौजूद था। कुछ लोग जब बिजली कंपनी के काउंटर पर पहुंचे और उन्होंने बताया कि उन्होंने बिजली का बिल जमा कर दिया है फिर उन्हें नोटिस क्यों भेजा गया, तो सिक्योरिटी गार्ड उन्हें धमकाने लगा। 

लोक अदालत में आए लोगों को जेल भेजने की धमकी दी जा रही थी

खुलेआम ऐलान किया गया कि, या-तो अभी बिजली का बिल जमा करो नहीं तो यहीं से जेल भेज दिया जाएगा। घबराए किसानों ने अपने वकीलों को बुला लिया। जब वकीलों ने पूछताछ शुरू की तो सिक्योरिटी गार्ड ने वकीलों के साथ धक्का-मुक्की कर दी। कर्मचारियों ने कंपनी का काउंटर बंद कर दिया। इसी दौरान असिस्टेंट इंजीनियर रंजीत सिंह भदौरिया आ गए। उन्होंने भी किसानों को जेल भेजने की धमकी देना शुरू कर दिया। इसी बात पर लोग आक्रोशित हो गए। 

असिस्टेंट इंजीनियर रंजीत भदौरिया को पटक-पटक कर पीटा

भीड़ में से किसी ने अचानक AE रंजीत भदौरिया को चांटा मार दिया। इसके बाद दोनों पक्षों में मारपीट शुरू हो गई। पब्लिक की संख्या ज्यादा थी। पब्लिक ने असिस्टेंट इंजीनियर रंजीत भदौरिया को पटक-पटक कर पीटा। लोगों का कहना था कि यदि जेल ही जाना है तो बिजली कंपनी के अधिकारी को मार कर जाएंगे। पब्लिक बिजली कंपनी के अधिकारी को तब तक पीटती रही जब तक कि पुलिस नहीं आ गई। पुलिस ने बड़ी मुश्किल से रंजीत भदौरिया को पब्लिक से बचाया। मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया MP NEWS पर क्लिक करें.


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here