MP CORONA NEWS- मध्यप्रदेश में चिंता का कारण शिवराज सिंह का ऐलान: कमलनाथ

भोपाल
। कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा कि मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जब 17 नवंबर को कोरोना को लेकर लागू तमाम प्रतिबंधो को हटाने का एकाएक निर्णय लिया था, स्कूलों को खोलने का निर्णय लिया था, आयोजनो को छूट प्रदान करने का निर्णय लिया था, तभी मैंने विरोध किया था और मैंने उसी दिन कहा था कि सरकार को एकदम से तमाम प्रतिबंध हटाने की बजाय, धीरे-धीरे चरणबद्ध तरीके से प्रतिबंधों को शिथिल करते हुए छूट प्रदान करना थी क्योंकि अभी खतरा टला नहीं है।

तीसरी लहर और नए वेरिएंट की आशंका और खतरा अभी भी सर पर है। 18 वर्ष से कम आयु के बच्चों को अभी तक वैक्सीन नहीं लगी है, कई पात्र लोगों का अभी तक वैक्सीनेशन होना बाकी है। मैंने सवाल भी उठाए थे कि क्या सरकार ने इस निर्णय लेने के पूर्व कोरोना गाइडलाइन के पालन की संपूर्ण व्यवस्था कर ली है ?

ऐसा लग रहा था कि सरकार ने यह निर्णय लेकर जनता को भगवान भरोसे छोड़ दिया है और सरकार अपनी जिम्मेदारी से भाग रही है। मैंने यह भी कहा था कि सरकार के इस निर्णय के बाद यदि संक्रमण बढ़ता है , जन हानि होती है तो क्या सरकार उसकी जिम्मेदारी लेगी ?

स्कूलों को पूरा खोलने का निर्णय भी ठीक नहीं था आखिर सरकार को कई दिन बाद समझ आयी और स्कूलों को लेकर निर्णय लिया गया है कि स्कूल 50% क्षमता से खुलेंगे, ऑफलाइन के साथ-साथ ऑनलाइन पढ़ाई भी होगी, माता- पिता की सहमति ज़रूरी होगी।

जिस तरह से कोरोना के नए वेरिएंट के मामले विश्व भर में सामने आ रहे हैं, तीसरी लहर की आशंका व्यक्त की जा रही है, कोरना के नए केस वापस सामने आना शुरू हो गए हैं, सरकार को तत्काल सभी आवश्यक कड़े कदम उठाना चाहिए, स्वास्थ्य सेवाओं की समीक्षा की जाना चाहिये, सभी आवश्यक इंतजाम किये जाना चाहिए, कोरोना की गाइडलाइन के पालन को लेकर सभी कदम उठाये जाना चाहिये। मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया MP NEWS पर क्लिक करें


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here