ड्रैगन ब्लड ट्री के खून को क्या ब्लड बैंक में डोनेट कर सकते हैं- GK in Hindi

इस साल की शुरुआत में ड्रैगन ब्लड ट्री (Dragon Blood Tree) की काफी चर्चा हुई थी। यह एक ऐसा पेड़ है जिसको काटने पर बिल्कुल इंसानों जैसा खून निकलता है। इसीलिए दुनिया भर में कई तरह की चर्चाएं हुई। अपना प्रश्न यह है कि क्या इस खून को ब्लड बैंक में जमा कराया जा सकता है। क्या यह खून इंसानों के काम आ सकता है। आइए पता लगाते हैं:- 

ड्रैगन ब्लड ट्री कहां पाया जाता है, कितना बड़ा होता है, उम्र कितनी है

प्रोफेसर अमरेंद्र इंदु आचार्य बताते हैं कि ड्रैगन ब्लड ट्री सकोट्रा दीप समूह में पाया जाता है। इस पेड़ की ऊंचाई अधिकतम 39 फीट नापी गई है। यह पेड़ 650 साल तक जिंदा रह सकता है। यह एक छाते की तरह दिखाई देता है। ऊपर से इसकी पत्तियां काफी घनी होती है। जिस स्थान पर यह पेड़ सबसे ज्यादा पाया जाता है उसे ‘ड्रैगन्सब्लड’ जंगल कहते हैं। यदि आप इस पेड़ के तने को काटते हैं या फिर छाल को उखाड़ने की कोशिश करते हैं तो इसमें से इंसानों के खून जैसा लाल रंग का पदार्थ निकलता है। लोग इसे खून ही मानते हैं। कई तरह की मान्यताएं हैं और कई तरह की कहानियां बनती जा रही हैं। 

रेज़िन क्या होता है, इसका क्या उपयोग किया जाता है

यह तो अपन जानते ही हैं कि किसी भी पेड़ को काटने पर एक पदार्थ निकलता है जिसे राल या रेज़िन कहा जाता है। ब्लैक ड्रैगन से जो निकलता है वह भी रेजिन ही है। ज्यादातर पेड़ों में यह हल्का सफेद होता है और ग्रामीण क्षेत्रों में ऐसे गोंद कहते हैं। हाइड्रोकार्बन द्रव्य है। केवल इसका रंग लाल है। इसके अलावा इसमें कोई विशेषता नहीं है। आप इसे ब्लड बैंक में डोनेट नहीं कर सकते लेकिन हां इसकी मदद से सुगंधित अगरबत्ती बना सकते हैं। ग्रामीण लोग इसका गोंद बनाते हैं। जिसे कई माध्यमों में प्रयोग किया जाता है। 

पेड़-पौधों में रेजिन ( Resin)  क्यों बनते हैं- Why Resin  formed in Plants and Trees

रेजिन पेड़-पौधों के सह-उत्पाद (By-products) होते हैं जो कि पेड़ पौधों के खाना बनाने की प्रक्रिया (प्रकाश संश्लेषण या फोटोसिंथेसिस) के दौरान ही बनते हैं और पेड़ पौधों में के कई हिस्सों में डिपॉजिट हो जाते हैं। यह औद्योगिक रूप से उपयोगी होते हैं। इन्हें कई अन्य नामों से भी जाना जाता है जैसे- Amber, Glue, Rubber, Latex, Mucus, Nector etc। (इसी प्रकार की मजेदार जानकारियों के लिए जनरल नॉलेज पर क्लिक करें) Notice: this is the copyright protected post. do not try to copy of this article (general knowledge in hindi, gk questions, gk questions in hindi, gk in hindi,  general knowledge questions with answers, gk questions for kids, ) :- यदि आपके पास भी हैं कोई मजेदार एवं आमजनों के लिए उपयोगी जानकारी तो कृपया हमें ईमेल करें। editorbhopalsamachar@gmail.com


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here