Loading...    
   


GWALIOR सिटी स्मार्ट नहीं बन पाई तो दीवारों को स्मार्ट बनाने की कोशिश शुरू - MP NEWS

ग्वालियर।
शहर को चमकाने के लिए नगर निगम और स्मार्ट सिटी कार्पोरेशन के बीच जुगलबंदी में अब शहर के चौराहों और नाले किनारे की दीवारों सहित अन्य वह स्थान जहां पोस्टर व अन्य तरह के विज्ञापन लगाकर खराब कर दिया जाता है उन्हे स्मार्ट बनाने का बीड़ा स्मार्ट सिटी ने ले लिया है और जल्द ही इस पर अमल करते हुए इन दीवारों पर सुंदर चित्र उकेरे जाएंगे। इसमें शहर को साफ रखने के साथ ही अन्य सरकारी योजनाओं की भी जानकारी दी जाएगी।

उल्लेखनीय है कि स्मार्ट सिटी द्वारा शहर में संग्रहालयों के साथ ही कई अन्य विकास कार्य कराने की बात कही जा रही है, जिनमें से कुछ को अमली जामा भी पहनाया जा चुका है। यह अलग बात है कि सभी काम फलीभूत नहीं हुए और कई काम ऐसे भी हैं जो कि करोड़ों रुपए खर्च करने के बावजूद अधर में हैं या फिर बंद ही हो चुके हैं। इसके बाद अब स्मार्ट सिटी कॉर्पोरेशन ने एक नया काम हाथ में ले लिया है और शीघ्र ही इस पर अमल करने की बात भी कही जा रही है। अब क्या होगा यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा।

स्मार्ट सिटी से पहले नगर निगम भी शहर की सडक किनारे व चैराहों के पास बनी दीवारों और बाउंड्रीवाल पर चित्र बनाने के काम को अंजाम दे चुका है, जिसके तहत चिडियाघर, मोतीमहल, महल रोड, फूलबाग रोड, पड़ाव पुल आदि पर सुंदर चित्र बनावकर इन्हे सुंदर बनाने का काम कर चुका है, लेकिन दोबारा इन पर ध्यान नहीं दिया गया, ऐसे में अब यह स्थान बेकार दिखाई देते हैं। अब स्मार्ट सिची भी उसी के न?शेकदम पर चलने जा रही है, ऐसे में यदि एख बार के बाद इनके मेंटिनेंस पर दोबारा ध्यान नहीं दिया गया तो फिर मोटा पैसा खर्च करने के बाद भी कोई नतीजा नहीं निकलेगा।

मोती महल से होगा आग़ाज

दीवारों और बाउंड्रीवालों को सुंदर चित्र से सजाए जाने के काम का आगाज मोतीमहल से होगा। इसके बाद यदि किसी भी तरह का वित्रापन लिखकर या फिर पेंपलेट लगाकर इन्हे खराब किया गया तो संबंधित व्यक्ति और संस्था के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। इसे लेकर सीईओ जिला पंचायत जयती सिंह ने कहा है कि शहर को सुंदर बनाने के लिए इस तरह के काम होते रहेंगे। इसमें नागरिकों को भी सहयोग करना होगा। 

02 जनवरी को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here