UPSC, JEE, CLAT और NEET के परीक्षार्थियों के लिये, कोचिंग संस्थानों का ऑनलाइन फ्री लेक्चर शुरू | INDORE NEWS
       
        Loading...    
   

UPSC, JEE, CLAT और NEET के परीक्षार्थियों के लिये, कोचिंग संस्थानों का ऑनलाइन फ्री लेक्चर शुरू | INDORE NEWS

इंदौर। कोरोना वायरस के चलते प्रशासन ने कोचिंग संस्थानों को बंद करवा दिया है। वहीं आने वाले समय में विद्यार्थियों को महत्वपूर्ण परीक्षाओं से गुजरना पड़ेगा। अप्रैल और मई में चार बड़ी परीक्षाएं होने जा रही है। इसमें यूपीएससी, जेईई, क्लेट और नीट परीक्षा होगी। जेईई मेन्स पांच, सात, आठ, नौ और 11 अप्रैल को आयोजित होगी। नीट तीन मई को होने जा रही है और क्लेट 10 मई को आयोजित होगी। 

विद्यार्थियों की समस्याओं को देखते हुए शहर के कोचिंग संस्थानों ने विशेष तैयार कर ली है। इसमें कई संस्थानों ने अपने सिस्टम को ऑनलाइन कर दिया है। अपने विद्यार्थियों के साथ ही दूसरे विद्यार्थियों को संस्थान निशुल्क लेक्चर दे रहे हैं। क्लेट की तैयारी कराने वाली कोचिंग संस्थान के संचालक आशीष नायक का कहना है कि हमने विद्यार्थियों से कहा है कि कोचिंग बंद होने के बावजूद वे घर पर बैठकर भी अच्छे से पढ़ाई कर सकते हैं। विद्यार्थियों को वीकली स्टडी प्लान बनाने और ऑनलाइन क्लासेस का उपयोग करने की सलाह दी है। हमने भी ऑनलाइन बैच शुरू कर दी है। 

आशीष नायक ने बताया कि ऑनलाइन सिस्टम के साथ ही चैट बॉक्स का ऑप्शन भी दिया है। इससे विद्यार्थी अपने मन में आ रहे सवालों के जवाब भी ले सकते हैं। विद्यार्थियों को पीडीएफ फाइल में सैंपल पेपर दे रहे हैं। कंपनी सेक्रेटरी कोर्स की तैयारी कराने वाले प्रेरक त्रिवेदी का कहना है कि हम पहले से ही यूट्यूब और अन्य सोशल मीडिया के माध्यम से ऑनलाइन शिक्षा दे रहे हैं। अब जब प्रशासन ने कोचिंग संस्थानों की क्लासेस पर भी रोक लगाई है तो हमने हमारे ऑनलाइन सिस्टम को और बेहतर कर लिया है।

Coaching Institutes ने ऑनलाइन किया स्टडी सिस्टम, फ्री दे रहे हैं लेक्चर

जेईई और नीट परीक्षा की तैयारी कराने वाले विशेषज्ञ विजित जैन का कहना है अमेरिका और इटली में जिस तरह से अचानक मामले बढ़ गए हैं वैसा भारत में न हो इसके लिए जरूरी है कि हर व्यक्ति इससे बचने के लिए जागरूक रहे। हमने जेईई और नीट परीक्षा की तैयारी को यूट्यूब पर ऑनलाइन कर दिया है। रोजाना शाम चार बजे से आठ बजे तक यूट्यूब पर ऑनलाइन लेक्चर प्रसारित किए जा रहे हैं। कमेंट्स बॉक्स में विद्यार्थियों से प्रश्न मंगाए जा रहे हैं और उनके भी जवाब दिए जा रहे हैं। वॉट्सएप ग्रुप पर भी ऑनलाइन लेक्चर प्रसारित होने के नोटिफिकेशन और अन्य जानकारी दे रहे हैं।

सीए कोर्स की पढ़ाई कराने वाले विनय कुमार राजोरिया का कहना है कि होस्टलों में इंटरनेट के माध्यम से पढ़ाई करने का समय तय कर लिया है। जो विद्यार्थी अपने घर वापस चले गए हैं उनका भी नुकसान नहीं होने देंगे। सभी फैकल्टी इन दिनों में भी रोजाना की तरह ऑनलाइन लेक्चर तैयार कर रही है। परीक्षाओं के विशेषज्ञ डॉ. जीएस ठकराल का कहना है कि कोरोना वायरस जैसी समस्याओं में भी रेगुलर पढ़ाई करने के लिए ऑनलाइन प्लेटफार्म कारगर साबित होते हैं। वैसे भी शिक्षा की व्यवस्था ऑनलाइन की ओर जा रही है। इसका उपयोग कभी भी, कही भी ली जा सकती है। इन दिनों विद्यार्थियों के लिए यह अच्छा मौका भी है कि वे ऑनलाइन प्लेटफार्म से पढ़ाई करने की आदत बना सकते हैं।