Loading...

टैक्सी ड्राइवर के प्यार में पागल विवाहिता ने इंजीनियर पति को इतना प्रताड़ित किया कि उसने सुसाइड कर लिया |

नई दिल्ली। टैक्सी ड्राइवर के प्यार में एक महिला इस कदर पागल हुई कि उसने अपने इंजीनियर पति को प्रताड़ित करना शुरू कर दिया। दवाब बनाने के लिए उसके खिलाफ दहेज एक्ट का मामला दर्ज करा दिया। महिला चाहती थी कि वो इंजीनियर पति के घर में रहे और इश्क टैक्सी ड्राइवर से चलता रहे। पति इस पर कोई आपत्ति ना उठाए। अंतत: तंग आकर इंजीनियर ने आत्महत्या कर ली। इंजीनियर का नाम शिव कुमार बताया जा रहा है।

फरीदाबाद पुलिस सूत्रों के मुताबिक, 45 साल के शिवकुमार पेशे से सिविल इंजीनियर थे। पुलिस को मिले सुसाइड नोट में शिवकुमार ने अपनी मौत के लिए अपनी पत्नी और उसके प्रेमी को जिम्मेदार ठहराया है। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है। सुसाइड नोट के आधार पर ही सिविल इंजीनियर के बड़े भाई ने उसकी पत्नी और प्रेमी के खिलाफ फरीदाबाद सेक्टर-16 थाने में केस दर्ज कराया है। परिजनों के मुताबिक, शिवकुमार संत नगर में रहते थे। बीबी और उसके प्रेमी से होने वाले रोज-रोज के झगड़ों से दूर रहने के लिए उन्होंने सेक्टर 55 में रहना शुरू कर दिया था।

बीबी की आदतों से था परेशान, इंजीनियर पति ने दे दी जान

जब साल 1999 में शिवकुमार की शादी हुई तब वह गुजरात में नौकरी करते थे। पत्नी और बच्चों के चलते वह कुछ समय पहले गुजरात से भिवानी में नौकरी करने चले आए। सप्ताह के अंत में वह भिवानी से फरीदाबाद स्थित घर चले आते थे। इसी बीच पत्नी के पड़ोस में रहने वाले एक टैक्सी कैब चालक से अवैध संबंध बन गए।

उसके बाद घर में विवाद शुरू हो गया। इतना ही नहीं 22 अप्रैल को पत्नी उन्हें छोड़कर भी चली गई। आरोप है कि पत्नी ने मायके वालों की मदद से शिवकुमार की कार भी हड़प ली। इसके बाद भी बीबी ने पीड़ित के ऊपर दहेज प्रताड़ना का मुकदमा दर्ज करा डाला, जोकि बाद में राजीनामा होने पर खत्म हो गया।

पुलिस के मुताबिक, 10-12 दिन पहले ही पत्नी फरीदाबाद लौटी थी। घर में फिर विवाद शुरू हो गया था। मंगलवार को भी दोनों के बीच कहासुनी हुई। इसी से परेशान होकर शिवकुमार ने घर में ही जहर खा लिया।