ASI धनीराम शाक्य रिश्वतखोर प्रमाणित, 4 साल की जेल

ग्वालियर। मप्र पुलिस का एएसआई धनीराम शाक्य रिश्वतखोर साबित हो गया है। विशेष न्यायाधीश रामजी गुप्ता ने उसे भ्रष्टाचार करने के आरोप में 4 साल की सजा और 10 हजार रुपए का अर्थदंड भी लगाया। 

विशेष लोक अभियोजक अरविंद कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि चेकिंग के दौरान राकेश चौधरी के रेत से भरे ट्रैक्टर-ट्रॉली को पकड़ा था। वाहन की सुपुर्दगी के लिए राकेश ने भितरवार न्यायालय में आवेदन दिया लेकिन उसे खारिज कर दिया गया। इसी मामले में केस डायरी भेजने के एवज में एएसआई धनीराम शाक्य ने 10 हजार रुपए की मांग की थी।

सेना से रिटायर्ड जवान ने भाभी का रेप किया

ग्वालियर। सेना से सेवानिवृत्त युवक हजीरा निवासी अपनी रिश्ते की भाभी को घुमाने के बहाने दिल्ली ले गया और वहां अपने परिचित के खाली फ्लैट में बंधक बनाकर दुष्कृत्य कर दिया। बाद में महिला फ्लैट से चुपके भागकर घर पहुंची और परिजन को जानकारी दी। हजीरा निवासी 30 वर्षीय महिला को रिश्ते का देवर उदयपाल सिंह राजावत निवासी दिल्ली 16 सितंबर को दिल्ली घुमाने का झांसा देकर दिल्ली ले गया और वहां अपने एक परिचित के फ्लैट पर ले गया, वहां उसे बंधक बनाकर उसके साथ दुष्कृत्य किया।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !