Loading...

BHOPAL के पार्कों बंटवारा: शाहजहांनी पार्क इंडियन ऑयल के नाम, हिन्दुस्तान पेट्रोलियम को GTB कॉम्प्लेक्स मिला

भोपाल। शहर के आठ पार्कों को विकसित किया जाएगा। इसके लिए मंगलवार को हुई हरा भोपाल शीतल भोपाल अभियान की बैठक में एजेंसियां तय कर दी गईं। यादगार-ए-शाहजहांनी पार्क को इंडियन ऑयल कार्पोरेशन विकसित करेगा। कार्पोरेशन यहां पौधारोपण सहित अन्य विकास कार्य करेगा। इसके अलावा ईदगाह हिल्स स्थित शहीद भगत सिंह पार्क को विष्णु शर्मा चायनीज, गीतांजलि पार्क को मनोहर डेयरी, रवीन्द्र नाथ टैगोर पार्क को पधारो सा, झलकारी बाई पार्क जीटीबी कॉम्प्लेक्स को हिन्दुस्तान पेट्रोलियम, ट्रांसपोर्ट पार्क को सागर गैरे, नूपुर कुंज को डॉक्टर एसोसिएशन द्वारा और यातायात पार्क को जिला पुलिस भोपाल द्वारा विकसित किया जाएगा।

मंगलवार को भोपाल कमिश्नर कल्पना श्रीवास्तव की अध्यक्षता में हरा भोपाल शीतल भोपाल अभियान की समीक्षा बैठक आयोजित की गई थी। बैठक में निर्णय लिया कि आईटीसी बड़े तालाब के नगर निगम क्षेत्र के कैचमेंट में पौधारोपण करेगा। हिन्दुस्तान पेट्रोलियम, इंडियन ऑयल कार्पोरेशन, लीड बैंक और हाउसिंग बोर्ड से भी कहा गया है कि वे तालाब के भोपाल और सीहोर जिले से जुड़े क्षेत्र में सीएसआर फंड से सघन पौधारोपण करें। बैठक में लक्ष्य से दोगुने पेड़ लगाने के लिए शिक्षा विभाग की तारीफ की गई तो लक्ष्य पूर्ति नहीं करने वाले उच्च शिक्षा, तकनीकी शिक्षा आदि विभागों से 31 अगस्त तक पेड़ लगाने के लिए कहा गया है।

स्कूलों ने किया दोगुना पौधारोपण

राजधानी में अभी तक करीब 9 लाख पौधे लगाए जा चुके हैं। बैठक में बताया गया कि स्कूल शिक्षा विभाग ने भोपाल के सभी स्कूलों के द्वारा लक्ष्य से दोगुना पौधारोपण कर लिया है। इन्हें 40 हजार पौधे रोपने का लक्ष्य दिया गया था जबकि 80 हजार पौधे विभाग ने अब तक लगा दिए हैं। वहीं, भोपाल में सभी विभागों के लिए अलग-अलग 11 लाख पौधारोपण का तकनीकी शिक्षा विभाग को 40 हजार पौधे अभियान के तहत रोपने का लक्ष्य दिया गया था। इसके बावजूद महज 120 पौधे रोपे गए। वहीं, बीडीए को भी इतना ही लक्ष्य दिया गया था लेकिन इन्होंने 15 हजार पौधे ही लगाए। खास बात यह है कि बीडीए की चैयरमैन वर्तमान में भोपाल कमिश्नर ही है जिन्होंने यह अभियान चलाया है।