Loading...

नदी में बहकर आईं 5 लाशों का खुलासा: बदला लेने भतीजे ने पूरे परिवार की हत्या की थी | BARWANI MP NEWS

बड़वानी। पाटी में मिले 5 शवों के मामले में पुलिस ने खुलासा कर दिया है। बोकराटा निवासी भतीजे चाचिया पिता जामा ने ही चाचा राया उर्फ रायसिंह व उसके परिवार के 4 सदस्यों की हत्या कर नाले में फेंक दिया था। चाचिया के भाई का शव करीब एक साल पहले इसी नाले मे मिला था। चाचिया को आशंका थी कि चाचा ने ही उसके भाई की हत्या की थी। इसी रंजिश में उसने चाचा सहित उसके परिवार के पांच लोगों को मारकर उसी नाले में फेंक दिया। पुलिस कंट्रोल रूम पर एडीजी वरूण कपूर ने इसका खुलासा किया। पुलिस को सभी 5 शव 23 किमी के दायरे में मिले।

आरोपी चाचिया भाई राकेश के साथ 9 अगस्त को चाचा के घर गया। यहां सेवसिंह व देवीसिंह के सिर में कुल्हाड़ी मारकर हत्या की। इसके बाद चाचा के आने का इंतजार करने लगा। कुछ देर बाद चाचा राया घर आया। राया दरवाजा खोलकर जैसे ही घर में घुसने लगा, चाचिया ने उसके गले पर कुल्हाड़ी से वार कर दिया। उसके पीछे किरमाबाई 2 साल की मासूम को गोद में लेकर आ रही थी। आरोपी ने किरमाबाई पर भी वार किया। 2 साल की मासूम उसके खिलाफ बयान न दे, इसलिए उसकी भी हत्या कर दी। देर रात मौके से 2 किमी दूर पिपरकुंड नाले में चादर में रखकर सभी 5 शव फेंक दिए थे। प्रेस कांफ्रेस में खुलासे के दौरान डीआईजी एमएस वर्मा, एसपी डीआर तेनीवार, एएसपी सुनीता रावत सहित पाटी की पुलिस टीम मौजूद थी। 

नाले से 17 किमी दूर नदी में मिला था पहला शव

टीआई संतोष सांवले ने बताया 11 अगस्त की सुबह 9 बजे नाले से 17 किमी दूर पाटी की गोई नदी में सेवसिंह का शव मिला था। दूसरा शव देवसिंह का 23 किमी दूर मगरपाटी में, तीसरा शव किरमाबाई का 20 किमी दूर मिला। नाले से करीब 100 मीटर दूर 2 साल की बालिका की हड्डियों व कपड़े मिले। राया का पांचवां शव मंगलवार को नाले में फंसा मिला। 

9 अगस्त को हत्या, 20 को मिला पांचवां शव 

पुलिस ने बताया 9 अगस्त को आरोपी ने पांच हत्या की। 11 को दो शव नाले से मिले। 12 को एक शव मिला। 19 अगस्त को चाैथा शव बरामद किया गया। वारदात के खुलासे के दिन यानी 20 अगस्त की सुबह पांचवां शव बरामद किया जा सका। 19 को जो शव मिला था वो नाले से 100 मीटर दूर मिला। संभवत: उसे जानवर खींचकर ले गए होंगे।