Loading...

GWALIOR NEWS: JU से 2019 के ग्रेजुएट छात्रों को इस वर्ष नहीं मिला BEd में एडमीशन

ग्वालियर। जीवाजी यूनिवर्सिटी से इस सत्र में स्नातक करने वाले छात्र बीएड में प्रवेश नहीं ले पाएंगे। तीसरे और आखिरी राउंड के रजिस्ट्रेशन और दस्तावेज सत्यापन की प्रक्रिया पूरी हाे चुकी है। अब छात्र बीएड में प्रवेश के लिए रजिस्ट्रेशन नहीं करा सकते हैं। जेयू इस सत्र में अभी बीए, बीएससी छठवें सेमेस्टर की परीक्षा पूरी नहीं करा पाई है जबकि बीकॉम छठवें सेमेस्टर की परीक्षा पूरी हो चुकी है लेकिन रिजल्ट अब तक घोषित नहीं हो सका है।   

ऐसे में अब जेयू से इस सत्र में स्नातक करने वाले छात्र बीएड में प्रवेश नहीं ले सकेंगे। हालांकि जेयू के साथ-साथ प्रदेश की अन्य यूनिवर्सिटी की ओर से उच्च शिक्षा विभाग के अफसरों से बात करके प्रवेश के लिए एक और राउंड करवाने की काेशिश की जा रही है। 

उच्च शिक्षा विभाग ने इस बार सुप्रीम कोर्ट के निर्देश का पालन करते हुए बीएड में प्रवेश की प्रक्रिया मई में शुरू कर दी थी। प्रवेश प्रक्रिया का तीसरा चरण भी अब लगभग पूरा हो चुका है, तीसरे और आखिरी राउंड में रजिस्ट्रेशन तथा दस्तावेज सत्यापन की प्रक्रिया 3 जून को समाप्त हो चुकी है। अब छात्र बीएड में प्रवेश के लिए रजिस्ट्रेशन नहीं करा पाएंगे। 22 को सीट आवंटन की प्रक्रिया होने के साथ प्रवेश प्रक्रिया समाप्त हो जाएगी और 1 जुलाई से कक्षाएं शुरू हो जाएंगीं। 

इस बार प्रदेश भर में बीएड में प्रवेश लेने वाले छात्रों की संख्या कम रही है इसकी वजह भी प्रदेश की यूनिवर्सिटी द्वारा स्नातक परीक्षाओं के रिजल्ट देर से घोषित करना रहे हैं। ज्यादातर यूनिवर्सिटी प्रवेश प्रक्रिया के तीसरे चरण तक ही स्नातक परीक्षाओं का रिजल्ट घोषित कर पाईं थीं अौर जेयू अब तक रिजल्ट घोषित नहीं कर पाई है। जिले के 80 बीएड कॉलेजों में लगभग 8 हजार सीटें हैं उनमें से महज 3500 सीटों ही अब तक भर पाई हैं। 
अब कॉलेज संचालकों और यूनिवर्सिटी के अफसरों ने उच्च शिक्षा विभाग के अफसरों से इस संबंध में बात करना शुरू की है कि बीएड में प्रवेश के लिए एक अौर चरण जारी करें ताकि इस सत्र में स्नातक करने वाले छात्र भी प्रवेश ले सकें।