Advertisement

INS विराट: कमांडिंग इन चीफ ने बताया, राजीव गांधी क्या करने आए थे | NATIONAL NEWS



नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी ने पूर्व पीएम स्व. राजीव गांधी पर बड़ा आरोप लगाया है। उन्होंने दावा किया है कि राजीव गांधी फैमिली पिकनिक के लिए भारत के सबसे महत्वपूर्ण युद्धपोत INS विराट को ले गए थे। पूर्व एडमिरल एवं उस समय सदर्न नेवल कमांड का कमांडिंग इन चीफ एल रामदास ने इस मामले में स्पष्टीकरण दिया है। उन्होंने पूरी डिटेल देते हुए बताया है कि राजीव गांधी INS विराट पर क्या करने आए थे, उनके साथ कौन कौन था। 

एडमिरल रामदास ने पीएम मोदी के दावे के बाद गुरुवार को एक प्रेस रिलीज जारी की, जिसमें उन्होंने कहा कि राजीव गांधी की लक्षद्वीप यात्रा आधिकारिक थी, वह पिकनिक पर नहीं थे। 32 साल पुरानी इस घटना पर एडमिरल रामदास ने आईएनएस विराट के तत्कालीन कैप्टन और वाइस एडमिरल विनोद पसरीचा, आईएनएस विंध्यागिरी के कमांडिंग अफसर एडमिरल अरुण प्रकाश और आईएनएस विराट के साथ चल रहे आईएनएस गंगा के कमांडिंग अफसर वाइस एडमिरल मदनजीत सिंह के बयानों का भी हवाला दिया। उन्होंने कहा, राजीव गांधी पत्नी सोनिया गांधी के साथ त्रिवेंद्रम से लक्षद्वीप जाने के लिए आईएनएस विराट पर सवार हुए। वह त्रिवेंद्रम में नेशनल गेम्स प्राइज डिस्ट्रिब्यूशन के चीफ गेस्ट थे। उन्हें आइलैंड डिवेलपमेंट अथॉरिटी (आईडीए) के साथ मीटिंग की अध्यक्षता करने लक्षद्वीप जाना था।

INS विराट पर कौन कौन था, क्या पार्टी भी हुई थी

पूर्व एडमिरल रामदास ने कहा कि उस समय सदर्न नेवल कमांड का कमांडिंग इन चीफ होने के कारण मैं भी आईएनएस विराट पर था। फ्लीट अभ्यास के लिए चार अन्य जहाज भी विराट के साथ थे। मैंने पीएम और उनकी पत्नी के लिए आईएनएस विराट पर डिनर भी आयोजित किया था। इसके अलावा विराट पर कोई अन्य पार्टी नहीं हुई न ही वहां कोई विदेशी शख्स था। एडमिरल रामदास ने आगे कहा, हालांकि राजीव गांधी और उनकी पत्नी हेलीकॉप्टर के जरिए स्थानीय लोगों से मिलने गए थे लेकिन उनके साथ राहुल गांधी नहीं थे। अंतिम दिन बंगाराम द्वीप पर उनकी यात्रा के दौरान कुछ नेवल गोताखोरों को पीएम की सुरक्षा के लिए साथ भेजा गया था। ये सभी बैठकें दिसंबर 1987 में हुईं थीं लेकिन गांधी परिवार के निजी इस्तेमाल के लिए किसी खास जहाज को नहीं भेजा गया था।

भाषण में क्या बोला था मोदी ने

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा था कि कांग्रेस के नामदार परिवार ने आईएनएस विराट का पर्सनल टैक्सी की तरह इस्तेमाल किया। तब राजीव गांधी पीएम थे और 10 दिनों के लिए छुट्टियां मनाने निकले थे। उनके लिए आईएनएस विराट को भेज दिया गया, जो उनके कुनबे को लेकर एक खास द्वीप पर ठहरा। छुट्टी मनाने वालों में इटली से आए राजीव गांधी के ससुराल वाले भी शामिल थे। पीएम मोदी ने इस बारे में ट्वीट कर इंडिया टुडे की रिपोर्ट का हवाला भी दिया। इसमें कहा गया कि छुट्टी मनाने वालों में अमिताभ बच्चन, जया बच्चन और तीन बच्चे भी शामिल थे। उनके भाई अजिताभ की बेटी भी छुट्टी मनाने वालों में शामिल थीं। इसके अलावा प्रियंका और राहुल गांधी के 4 दोस्त, सोनिया गांधी की बहन, बहनोई और उनकी बेटी, सोनिया गांधी की मां, उनके भाई और मामा भी शामिल थे।