Loading...

पीली साड़ी वाली पीठासनी अधिकारी ने कहा: अक्सर रात को घबरा कर नींद खुल जाती है | EMPLOYEE NEWS

नई दिल्ली। देश भर में सोशल मीडिया सनसनी बन गईं पीली साड़ी वाली पीठासनी अधिकारी रीना द्विवेदी अब सोशल मीडिया से नाराज हो गईं हैं। उनका कहना है कि लोग कई तरह के कमेंट कर रहे हैं। लोग काम के प्रति मेरी निष्ठा की बात ही नहीं कर रहे। मैं 44 डिग्री तापमान में अपनी ड्यूटी कर रही थी। सोशल मीडिया पर कुछ टिप्पणियां ऐसी थीं जिनको पढ़ने के बाद मैं आहत हुई। अक्सर रात को घबरा कर नींद खुल जाती है। लगता है कि कुछ अहित होने वाला है। 

‘पीली साड़ी वाली' फोटो से मशहूर हुई रीना द्विवेदी कहती हैं कि उनको पता भी नहीं था कि अगले दिन के अखबार में उनकी फोटो छपेगी। जनता से इस फोटो को खासा पसंद किया। अनायास ही चुनाव में वह किसी ब्रांड एम्बेस्डर से ज्यादा चर्चित हो गईं। इसी बीच जो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ उससे उनको तकलीफ ज्यादा हुई। 

रीना ने बताया कि इसी बीच कुछ और लोगों ने भी फोटो खींची और सोशल मीडिया पर वायरल कर दी। रीना द्विवेदी सोशल मीडिया पर हुई टिप्पणियों से भयभीत हैं। कहती हैं....मैं तो अपना काम कर रही थी। मुझे चुनाव की ड्यूटी निभाने में खुशी मिली। पूरे उत्साह से निभाया। इन लोगों ने उत्साह नहीं देखा। यह नहीं देखा कि 43 डिग्री तापमान में भी खुशी-खुशी लोकतंत्र के इस पर्व में जिम्मेदारी को कैसे निभाया। आज डर लगता है कि कहीं इन लोगों की वजह से मुझे कोई नुकसान न हो जाए।

रीना कहती हैं कि बजाय ग्लैमर देखने के लोगों को उन लोगों को महत्व देना चाहिए जो अपनी ड्यूटी उत्साह से कर रहे हैं। मैंने इसके पहले 2018 में नगर निगम और 2017 में विधान सभा चुनाव में भी ड्यूटी की। तब भी पूरे उत्साह से जिम्मेदारी निभाई। लोगों को भेदभाव नहीं करना चाहिए। यह एक बड़ी जिम्मेदारी है और सभी को पूरे उत्साह से निभाना चाहिए। ठीक वैसे ही जैसे घर में कोई समारोह हो तो जिम्मेदारी निभाते हैं।

पीडब्ल्यूडी की कर्मचारी रीना द्विवेदी के मुताबिक लोगों ने मेरे वीडियो सोशल मीडिया पर डाले। बिना किसी की जानकारी के कोई यह भला कैसे कर सकता है? इसका अधिकार किसने दिया? मेरी अपनी जिंदगी है। मैंने तो नहीं कहा ऐसा करने को। मेरा 13 साल का बेटा है। परिवार है।