Advertisement

सावधान! यूपी का एटीएम कार्ड क्लोन रैकेट एमपी में एक्टिव, जबलपुर में 3 पकड़े



भोपाल। मध्यप्रदेश में एक बार फिर एटीएम कार्ड का क्लोन बनाकर आपका बैंक अकाउंट खाली करने वाला गिरोह एक्टिव हो गया है। जबलपुर में 3 बदमाश पकड़े गए हैं। पता चला है कि यह पूरी का गिरोह है जो मध्यप्रदेश में एक्टिव हुआ है। यह गिरोह छत्तीसगढ़ में सफलतापूर्वक कई वारदातें कर चुका है। 

मामले ओमती, गढ़ा व अधारताल थाना में दर्ज हैं। इन मामलों में इस गिरोह ने एटीएम का क्लोन बनाकर करीब ढाई लाख रुपए खातों से निकाल लिए थे। आरोपियों ने कुछ समय पूर्व रायपुर में भी इस तरह की वारदातों को अंजाम दिया था, जिसके बाद उनका निशाना जबलपुर के एटीएम धारक थे। एसपी निमिष अग्रवाल ने पत्रकारवार्ता में घटनाक्रम की जानकारी दी। इस दौरान एएसपी सिटी राजेश त्रिपाठी, एएसपी क्राइम शिवेश सिंह बघेल उपस्थित रहे।

पूरी प्लानिंग के साथ करते थे लूट 

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि गिरफ्त में आए आरोपित किसी एटीएम सेंटर में घुसकर एटीएम से पैसे निकालने वालों पर नजर रखते थे। इस दौरान वे अपने मोबाइल का स्पाई कैमरा (जिसमें कैमरा चालू रहता है लेकिन मोबाइल स्क्रीन पर रिकार्डिंग नजर नहीं आती) चालू रखते थे। कैमरे के जरिए वे पैसे निकालने वालों के कार्ड व पासवर्ड की रिकार्डिंग कर लेते थे। उसके बाद क्लोनिंग साफ्टवेयर की मदद से से रिकॉर्ड किए हुए एटीएम की डिटेल के जरिए एटीएम का क्लोन तैयार कर लेते थे।

दूसरे शहरों से और रात में ही निकालते थे रकम

प्राप्त जानकारी के अनुसार आरोपी अपने काम को बड़े ही शातिर तरीके से अंजाम देते थे। वे जिस शहर में एटीएम का क्लोन तैयार करते थे, हमेशा उस शहर के बाहर जाकर रकम निकालते थे, ताकि पकडे न जाएँ। क्लोनिंग वाले एटीएम का उपयोग रात्रि 12 बजे के आसपास करते थे, क्योंकि उस दौरान ज्यादातर खाता धारक मोबाइल पर आने वाले ट्रांजेक्शन मैसेज को नहीं देखते। आरोपित कुछ देर के अंतराल में क्लोन्ड एटीएम से 20-20 हजार रुपए निकाल लेते थे।  

कार में पूरी लैब बना रखी थी

पुलिस टीम ने आरोपियों के कब्जे से 1 सफारी गाड़ी, 1 लैपटॉप, एटीएम स्वाइप मशीन, 7 क्लोन्ड एटीएम, 2 मोबाइल फोन जब्त किए हैं।

पकड़े गए गिरोह के लोग UP के हैं 

1- बजरंग बहादुर उर्फ सावन सिंह (26) पिता राजप्रताप सिंह निवासी ग्राम करमचंद्रपुर थाना जेठवारा प्रतापगढ़ यूपी।
2- संदीप सिंह (26) पिता अजय कुमार निवासी ग्राम भावलपुर थाना मांधाता जिला प्रतापगढ़ यूपी।
3- कुलदीप सिंह (23) पिता रामआसरे निवासी ग्राम आशापुर थाना जेठवारा जिला प्रतापगढ़ यूपी।

पुरस्कार की घोषणा

आरोपियों की गिरफ्तारी में टीआई ओमती नीरज वर्मा, एसआई राकेश बघेल, सायबर सेल से एसआई नीरज नेगी, आरक्षक नितिन जोशी, उपेन्द्र गौतम, राजेश शर्मा, जयंत इनवाती, आदित्य कुमार, वंदित राजपूत, दुर्गेश दुबे, मनोज भालाधरे, राजा मिश्रा, चंद्रिका पड़वार, क्राइम ब्रांच से प्रआ धनंजय सिंह, विजय शुक्ला, आरक्षक जितेन्द्र दुबे, बीरबल रजक, मोहित उपाध्याय, दीपक रघुवंशी, रविन्द्र तिवारी, गिरीश मेहरा की भूमिका रही। एसपी ने पुलिस टीम को पुरस्कृत करने की घोषणा की है।