Loading...

दिल्ली में अमित शाह की जगह शिवराज सिंह ने रैली को संबोधित किया | NATIONAL NEWS

भोपाल। भाजपा में मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का कद बढ़ गया है। अब वो पब्लिक डोमेन में अमित शाह के बाद दूसरे नंबर पर हैं। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह रविवार को दिल्ली के रामलीला मैदान में युवा विजय संकल्प महारैली को संबोधित करने वाले थे परंतु बीमारी के कारण वो नहीं आ पाए, उनकी जगह शिवराज सिंह चौहान ने रैली को संबोधित किया। यानी पहला कदम लेते ही वो भाजपा के दूसरे राष्ट्रीय उपाध्यक्षों एवं महासचिव से आगे निकल गए हैं। 

शिवराज सिंह चौहान ने लोकसभा चुनाव को लेकर बन रहे विपक्ष के महागठबंधन को बिन दूल्हे की बारात बताया। उन्होंने कहा, यह कितने आगे जाएगी, इसका कोई ठिकाना नहीं। शिवराज सिंह ने कहा, "सामने वाली सेना में सेनापति का पता नहीं, बाराती तैयार है लेकिन घोड़ी पर कौन बैठेगा, इसका कोई ठिकाना नहीं है? अगर इसपर 4-6 बैठ गए तो घोड़ी दुल्हन के पास पहुंचेगी भी या नहीं, इसका कोई ठिकाना नहीं।''

पूर्व मुख्यमंत्री ने ममता की रैली का जिक्र करते हुए कहा- कल कोलकाता का दृश्य था, कई विपक्षी पार्टियां शामिल थीं। ये सब भाजपा और मोदी की बाढ़ से बचने के लिए एक ही पेड़ पर बैठ गए। शिवराज ने कहा, ''अलग-अलग स्वर सुनाई दे रहे हैं। कोई कहता है अबकी बार राहुल सरकार। कोई बंगाल से कहता है ममता सरकार। तो कोई उप्र से कहता है कि नहीं-नहीं अबकी बार मायावती सरकार। कोई आंध्र से कहता है बाबू सरकार। केजरीवाल भी मंच पर थे, वे पानी पी-पी कर कांग्रेस को कोसते थे, उनका जन्म ही कांग्रेस के विरोध से हुआ। ये सब मोदी से परेशान हैं।''