Loading...

बेटियों को शिवराज के सहारे छोड़ फांसी पर झूल गया मंत्रालय का कर्मचारी | Bhopal mp news

भोपाल। मध्यप्रदेश के मंत्रालय विंध्याचल भवन स्थित आईटी सेक्शन में पदस्थ एक कर्मचारी अलिन सहाय ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। उनके पास से एक सुसाइड नोट मिला है। जिसमें उन्होंने सीएम शिवराज सिंह चौहान को संबोधित करते हुए लिखा है कि सीएम सर, मेरी बच्चियों की पढ़ाई न रुके।

न्यू मिनाल रेसिडेंसी निवासी 55 वर्षीय अनिल सहाय ने बुधवार दोपहर फांसी लगाकर जान दे दी। अयोध्या नगर टीआई हरीश यादव के मुताबिक सहाय विंध्याचल भवन स्थित आईटी सेक्शन में पदस्थ थे। पत्नी नीमा एक स्कूल में शिक्षक हैं। बड़ी बेटी बेंगलुरू में मैनेजमेंट की पढ़ाई कर रही है, जबकि 16 वर्षीय बेटी दसवीं की छात्रा है। बुधवार सुबह मां-बेटी स्कूल चले गए थे। दोपहर ढाई बजे पड़ोसी ने फोन कर नीमा को बताया कि घर से दूध जलने की गंध आ रही है। कुछ देर बाद वे घर पहुंचीं तो पति को फंदे पर लटका था। 

पुलिस को अनिल के लोअर से सुसाइड नोट मिला है। इसमें लिखा है कि मैं परिवार से बेहद प्यार करता हूं। किसी ने मेरा एटीएम ले रखा है। इसे ब्लॉक करवा दें। उसके पास चेक भी हैं। वह ब्लैकमेल कर रहा है। सीएम सर, मेरी बच्चियों की पढ़ाई न रुके। फिलहाल ये पता नहीं चला है कि एटीएम किसके पास है और वो क्यों उन्हे ब्लैकमेल कर रहा था। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com