SC/ST Act: ब्राह्मण नेता को पुलिस ने पहले लात-घूसों से पीटा, फिर गिरफ्तार किया | MP NEWS

20 September 2018

भोपाल। मंत्री रामपाल सिंह के बंगले के सामने एससीएसटी एक्ट का विरोध कर रहे ब्रह्म समागम कल्याण समिति के अध्यक्ष धर्मेंद्र शर्मा कक्का जी पर पुलिस ने जमकर लात-घूंसे बरसाए। इघर काला कानून विरोधी मोर्चा के कार्यकर्ता की रैली में शामिल लोगों ने भाजपा के प्रदेश कार्यालय के सामने जमकर हंगामा किया। रैली में शामिल लोग भाजपा विधायक मोहन यादव के विवादित बयान के विरोध में नारे लगा रहे थे।

सवर्ण समाज के विभिन्न संगठनों ने आज राजधानी में एससीएसटी एक्ट के विरोध का ऐलान किया था। ब्रह्म समागम कल्याण समिति के अध्यक्ष धर्मेंद्र शर्मा कक्का जी अपने साथियों के साथ मंत्री रामपाल सिंह के बंगले का घेराव करने पहुंच गए। उन्होंने वहां नारेबाजी करते हुए काला झंडा लगाने की कोशिश की। इतने वहां मौजूद पुलिसबल उनके पीछ दौड़ा और पकड़ लिया। पुलिसकर्मियों ने पहले उनके ऊपर घूंसे बरसाए। जब धर्मेंद्र शर्मा गिर गए तो उन्हें लाते मारी। धर्मेंद्र शर्मा को लाते और घूंसे मारते पुलिसवालों का वीडियो भी सामने आया है। 

काला कानून विरोधी मोर्चा के बैनर तले सवर्णों के कई संगठनों ने गुरुवार हबीबगंज नाका स्थित गणेश मंदिर से रैली के मद्देनजर भारी पुलिस बल तैनात किया गया था। रैली हबीबगंज नाके से नारेबाजी करती हुई जैसे ही आगे बढ़ी हबीबगंज स्टेशन के पास तैनात भारी पुलिस बल ने रोक लिया। हबीबगंज स्टेशन के सामने प्रदर्शनकारियों की पुलिस से झड़प भी हुई। पुलिस ने लाठियों कावेरी गेट बना कर प्रदर्शनकारियों को रोक लिया था।

मोर्चा के संयोजक रघुनंदन शर्मा अखिल भारतीय ब्राह्मण महासभा के पुष्पेंद्र मिश्रा क्षत्रिय महासभा करणी सेना राजपूत समाज समेत कई संगठन प्रदर्शन में शामिल हैं। रैली रोके जाने से नाराज मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने भाजपा कार्यालय में घुसने की कोशिश की। लेकिन वहां पहले से ही भारी पुलिस बल तैनात था। यहां से पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को बल प्रयोग कर खदेड़ दिया। भाजपा कार्यालय के सामने राखी परमार, मीनाक्षी सिंह, अजय मिश्रा, पंडित राम गोपाल शर्मा जबलपुर, पुष्पेंद्र मिश्रा, चंदशेखर तिवारी, चिंटू पाठक, रघुनंदन शर्मा की पुलिस से जमकर बहस हुई। 

मोर्चा के अध्यक्ष रघुनंदन शर्मा व यात्रा प्रभारी पं. धर्मेंद्र शर्मा कक्का ने बताया कि मोर्चा ने भाजपा सरकार से विधानसभा का विशेष सत्र बुलाकर मप्र में एससी-एसटी एक्ट लागू नहीं होगा, यह संकल्प पारित करने की मांग की है। यात्रा संयोजक शर्मा ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से पूर्व में दिए गए उनके वक्तव्य ''माई के लाल पर'' प्रदेश की जनता से माफी मांगने की अपील की है। शर्मा ने यह भी कहा कि यदि पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार किया तो जेल के अंदर उनका आंदोलन अनवरत जारी रहेगा। रघुनंदन शर्मा कि हमारा विरोध किसी एक पार्टी के खिलाफ नहीं है। हम इस कानून को बनाने वालों के खिलाफ हैं। संसद में बैठे सांसदों ने इस कानून को अपने हित के लिए पास कर दिया। समाज में गंदे नेता जातिवाद को बढ़ावा देकर समाज के बीच खाई बना रहे हैं। 

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->