LOKSABHA CHUNAV HINDI NEWS यहां सर्च करें




शिवराज सिंह और गृहमंत्री के खिलाफ SC/ST ACT में शिकायत, मचा बवाल | MP NEWS

07 September 2018

भोपाल। 06 सितम्बर को एससी/एसटी एक्ट के खिलाफ भारत बंद था। 07 सितम्बर को भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री एससी/एसटी एक्ट के जाल में उलझ गए। उनके खिलाफ मध्यप्रदेश के सीधी जिले में स्थित अजाक थाने में एससी/एसटी एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज करने हेतु आवेदन पेश हुआ है। एससी/एसटी एक्ट के अनुसार शिकायत प्राप्त होते ही आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जानी चाहिए और उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया जाना चाहिए। इसके बाद मामले की जांच की जाएगी। सोशल मीडिया पर बवाल मच गया है। लोग एससी/एसटी एक्ट का पालन करने की मांग कर रहे हैं। 

ये रहा वो आवेदन जिसने हंगामा मचा दिया: 
सेवा में, 
पुलिस अधीक्षक महोदय महोदय,
अजाक थाना सीधी मध्य प्रदेश
अध्यक्ष महिला आयोग मध्यप्रदेश भोपाल
अध्यक्ष अनुसूचित जाति जनजाति आयोग भोपाल मध्य प्रदेश
विषय :-अनुसूचित जाति जनजाति महिला होने के कारण जातीय उत्पीड़न एवं अभद्रता के विरुद्ध शिकायत

महोदय,
निवेदन है कि प्रार्थी श्रीमती बसंती कॉल महिला कांग्रेस जिला सीधी की अध्यक्ष है जो अनुसूचित जाति जनजाति की एक महिला है। घटना दिनांक 2 सितंबर 2018 को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जन आशीर्वाद यात्रा के अंतर्गत चुरहट आए थे चुरहट नगर की सड़क विगत 2 वर्ष से खराब है जो चलने लायक के नहीं है जिला युवक कांग्रेस ने विगत वर्ष सड़क दुरुस्त कराए जाने के लिए आमरण अनशन किया था 1 साल तक सड़क का निर्माण नहीं किया गया जिससे क्षुब्ध होकर चुरहट नगर वासियों ने लोकतांत्रिक तरीके से आंदोलन किया। विरोध किया गया। महिला कांग्रेस और युवक कांग्रेस ने संयुक्त रूप से मुख्यमंत्री जन आशीर्वाद यात्रा का विरोध व्यक्त करते हुए काले झंडे दिखाए और चूड़ियां भेंट की। 

मुख्यमंत्री के इशारे पर षड्यंत्रपूर्वक उनके रथ यात्रा मे उपस्थित पुरुष पुलिसकर्मियों तथा सुरक्षाकर्मियों ने मुझे एक आदिवासी अनुसूचित जाति की महिला होने के कारण धक्का दिया, छीना झपटी की, मुझे जमीन पर गिरा दिया, जातिसूचक शब्दों से अपमानित किया। और घसीटा तथा मुझे व अन्य कांग्रेस कार्यकर्ताओं को हिरासत में लेकर पुलिस थाना कमर्जी में रखा गया। जहां देर रात तक रात महिला कार्यकर्ताओं को निजी मुचलके पर छोड़ दिया गया। किंतु अन्य युवक कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को जिन्हें मुचलके पर छोड़ा गया था उन्हे पुनः थाना लॉकअप में बंद कर दिया गया। और दूसरे दिन SDM चुरहट को थाना बुलाकर जेल वारंट बनाकर जिला जेल सीधी भेज दिया गया। 

मध्य प्रदेश के गृहमंत्री श्री भूपेंद्र सिंह ने भोपाल में बयान दिया कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के हत्या की साजिश नेता प्रतिपक्ष श्री अजय सिंह राहुल भैया के कहने पर रची गई थी जो भोपाल प्रवास पर थे और यह भी कहा गया कि इस षडयंत्र में जिला युवक कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती रंजना मिश्रा व मैं बसंती कोल महिला कांग्रेस अध्यक्ष शामिल थे। जिन्हें पुलिस गिरफ्तार करने के लिए ढूंढ रही थी इस कारण से मैं अंडरग्राउंड हो गई थी। डर के मारे बाहर नहीं निकल रही थी। 

प्रदेश के गृह मंत्री और मुख्यमंत्री का यह आचरण और कृत्य अनुसूचित जाति की महिलाओं के प्रतिकूल है। जिस से मैं काफी अपमानित हुई हूं। अतः लिखित शिकायत दर्ज का अनुरोध है कि कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान, गृह मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह सहित मेरे साथ अभद्रता कर अपमानित करने वाले पुरुष पुलिस कर्मियों के विरुद्ध आपराधिक मामला पंजीबद्ध किए जाने की कृपा की जाए।
भवदीय
श्रीमती बसंती कोल
अध्यक्ष, जिला महिला कांग्रेस सीधी मध्य प्रदेश
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Suggested News

Loading...

Advertisement

Popular News This Week

 
-->