Loading...

बांध से आई बाढ़, भगवान राम का शहर डूब रहा है | MP NEWS

भोपाल। माताटीला बांध से अचानक भारी मात्रा में पानी छोड़ दिए जाने के कारण रामराजा सरकार का शहर ओरछा डूबने की स्थिति में आ गया है। शहर में बाढ़ के हालात हैं। चारों तरफ पानी ही पानी नजर आ रहा है। हजारों करोड़ रुपए की संपत्ति का नुक्सान हो चुका है। 

पुल डूबा, सभी रास्ते बंद

पर्यटन नगरी ओरछा के पश्चिम में बबीना रोड स्थित घुरारी नदी का पुल डूबने से व उत्तर में ओरछा झांसी मार्ग पर सातार नदी के रिपटे पर करीब 10 फीट पानी होने से ओरछा 8 घंटे के लिए टापू में तब्दील हो गया। बेतवा में उफान आने से नदी किनारे बने तीन सितारा होटल की दीवार ढहने से होटल में पानी भर गया। 

माताटीला से छोड़ गया पानी 

कलेक्टर अभिजीत अग्रवाल के अनुसार माताटीला बांध में अधिक पानी आने के कारण शनिवार शाम को चार लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया हैं। बेतवा नदी के तटवर्ती क्षेत्र में अलर्ट जारी करते हुए प्रशासन ने पुलिस बल को सतर्क कर दिया हैं। 

नॉटघाट पुल और मंदिरों तक पहुंचा पानी 

बेतवा में बढ़ते जलस्तर के कारण नॉटघाट पुल के पास करीब 10 साल बाद पानी पहुंचा है। ओरछा बेतवा नदी के किनारे स्थित तीन सितारा होटल रिसोर्ट की दीवार टूट गई और पानी होटल के अंदर भर गया। राहत की बात यह रही कि जिस वक्त होटल में पानी भरा उस समय होटल में सैलानी नहीं थे। नदी किनारे स्थित पर्यटन पुलिस चौकी में पानी घुस गया। जिसके चौकी प्रभारी अंकित दुबे को स्टाॅप के साथ चौकी खाली कर दूसरी जगह जाना पड़ा। 

मंदिरों में 5 फीट तक पानी ही पानी

इसके अलावा पानी के तेज बहाव से बेट्वेश्वर महादेव मन्दिर, मनसापूरण हनुमान मन्दिर के अंदर पानी करीब पांच फीट पानी भर गया। चौकी मन्दिरों व तीन सितारा होटल में एकायक पानी भरने से अफरा-तफरी मच गई, लेकिन प्रशासन की मुस्तैदी के कारण किसी भी प्रकार की जनहानि नहीं हुई। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com