Advertisement

शिवराज सरकार शांति पूर्ण आन्दोलन को अनावश्यक उकसाने की कार्रवाई से बचे: सपाक्स | MP MEWS



भोपाल। भारतीय जनता पार्टी द्वारा सतना में आयोजित एंव सरकार द्वारा प्रायोजित पिछड़ा वर्ग सम्मेलन में मुख्यमंत्री को SC/ST एक्ट के विरुध्द ज्ञापन देने हेतु एकत्रित हुए सपाक्स समाज के कार्यकर्ताओ पर पुलिस ने बर्बरता पूर्वक लाठी चार्ज किया जिसमे 50 से अधिक कार्यकर्त्ता घायल हुए है। एट्रोसिटी एक्ट के विरोध में सपाक्स समाज हर स्तर पर शांति पूर्ण विरोध प्रदर्शन कर रही है, सपाक्स समाज के अनुशासन की मिशाल 6 सितम्बर का शांतिपूर्ण भारत बंद था।

सपाक्स समाज के अध्यक्ष डॉ.के.एल.साहू.ने सरकार से अपील की है की सरकार अपनी दमन कारी नीतियों में तत्काल सुधार करे एंव शांति पूर्ण आन्दोलन को अनावश्यक उकसाने की कार्यवाही से बचे। 6 सितम्बर को शहडोल में अनावश्यक बर्बर लाठी चार्ज कराने वाले पुलिस अधीक्षक पर आज तक कार्यवाही नहीं किये जाने का ही नतीजा है की आज सतना में पुलिस के साथ भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने भी शांति पूर्ण आन्दोलन कर रहे सपाक्स वर्ग पर हमला किया।

इसके पूर्व भाजपा कार्यकर्ताओ व पुलिस द्वारा ग्वालियर में भी शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे सपाक्स समाज जनों पर हमला किया गया था जिसमे आधा दर्जन से अधिक कार्यकर्त्ता घायल हुए थे। डॉ.के.एल.साहू ने सरकार को चेताया है कि ऐसे में यदि भविष्य में लोग प्रतिरोधात्मक कार्यवाही करते हुए हिंसक होते है तो इसकी जवाबदारी शासन की होती है।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com