SC-ST ACT के खिलाफ भड़का आंदोलन, सिंधिया के गढ़ में सिंधिया के पोस्टर फाड़े | NATIONAL NEWS

30 August 2018

भोपाल। SC-ST ACT के संदर्भ में सुप्रीम कोर्ट के के आदेश को पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा निष्प्रभावी बनाने के बाद मोदी से SC-ST ACT संशोधन अधिनियम का विरोध भड़क उठा है। इस मामलें में विपक्ष भी मौन है अत: आज पब्लिक ने मध्यप्रदेश में विपक्ष के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया को घेर लिया। भीड़ ने सिंधिया के स्वागत में लगे बैनर फाड़ दिए। बताया जा रहा है कि सिंधिया अशोकनगर का कार्यक्रम अधूरा छोड़कर वापस चले गए। 

बता दें कि ज्योतिरादित्य सिंधिया मध्यप्रदेश में कांग्रेस की ओर से मुख्यमंत्री पद के प्रबल दावेदार हैं। अशोकनगर उनकी अपनी लोकसभा क्षेत्र का शहर है। अशोकनगर को ज्योतिरादित्य सिंधिया का गढ़ भी कहा जाता है। यहां आज भी ज्योतिरादित्य सिंधिया को 'श्रीमंत' और 'महाराज' से संबोधित किया जाता है और कम से कम कांग्रेस में कोई भी उनसे आंख मिलाकर बात नहीं करता। यहां लोग जब ज्योतिरादित्य सिंधिया के सामने आते हैं तो हाथ बांध ​लेते हैं और सिंधिया के पैरों की तरफ देखते हुए बात करते हैं। 

एएनआई रिपोर्ट संदीप सिंह ने वह वीडियो वायरल किया है। उन्होंने बताया कि आक्रोशित भीड़ SC-ST ACT में पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा किए गए संशोधन के मामले में कांग्रेस और ज्योतिरादित्य सिंधिया का पक्ष जानना चाहती है। उनकी मांग है कि सिंधिया यह भी स्पष्ट करें कि वो जातिगत आरक्षण का समर्थन करते हैं या आर्थिक आधार पर आरक्षण का।

शाडोरा में सिंधिया के काफिले का घेर लिया
एक अन्य जानकारी के अनुसार अशोकनगर जिला मुख्यालय के साथ शाडोरा मे भी सांसद सिंधिया का जमकर विरोध हुआ, यहाँ हजारों की संख्या में मौजूद लोगों ने मुर्दाबाद के नारे लगाए एवं सिंधिया के काफिले को घेर लिया। पहली बार अशोकनगर में सांसद सिंधिया को आम लोगो की भीड़ का विरोध सहना पड़ा। इन लोगो ने कांग्रेस एवं भाजपा के विरोध में भी जबरदस्त नारे लगाए। गांधी पार्क से स्टेशन रोड तक आंदोलनकारियो ने एक रैली भी निकाली, इस दौरान इस क्षेत्र में लगे कांग्रेस पार्टी के बैनरों को  फाड़ दिया एवं उनके साथ तोड़फोड़ की।

नवंबर में हमारी सरकार बनाओ फिर बात करेंगे: सिंधिया
सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया अशोकनगर में जिला कांग्रेस कार्यालय का उद्घाटन करने आये थे। आंदोलन कर रहे लोगों ने सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया से संसद में बिल के समर्थन करने पर स्पष्टीकरण मांगा। साथ ही झूठे मुकदमों को लेकर लोगों को हो रही परेशानी के बारे में बताया। ज्ञापन देने वाले लोगों से तो सिंधिया ने कहा कि नवंबर में हमारी सरकार बनाओ फिर इस मुद्दे पर बात करेंगे।

गुना तिराहे पर काले झंडे दिखाने आए प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज
बाद में प्रेसवार्ता में सांसद सिंधिया ने कहा कि लोगों को अपनी बात कहने का अधिकार है और  इस बात का ध्यान रखेंगे कि उनके क्षेत्र में किसी भी बेगुनाह पर कोई कार्यवाही ना हो। इसके बाद जब सांसद सिंधिया गुना की ओर रवाना हो रहे थे तो गुना तिराहे पर आंदोलनकारी सांसद सिंधिया को काले झंडे दिखाने का प्रयास करने लगे, इस दौरान पुलिस ने इनपर लाठीचार्च कर दिया। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week