केरल बाढ़: 100 के रिकॉर्ड टूटे, 3 लाख से ज्यादा घर तबाह, हजारों मौतें | NATIONAL NEWS

18 August 2018

नई दिल्ली। केरल में ऐसी तबाही पिछले 100 साल में रिकॉर्ड नहीं की गई। हालात बेहद बदतर और चिंताजनक हो गए हैं। राज्य के कई शहरों में पानी भर चुका है। 3 लाख से ज्यादा घरों को बाढ़ के कारण खाली करना पड़ा है। सरकार ने 2000 से ज्यादा राहत केंप लगाएं हैं, फिर भी भीड़ बढती जा रही है। सूत्रों का कहना है कि इस ​बाढ़ में हजारों मौतें हो चुकीं हैं। सरकार ने बताया कि रिकॉर्ड में 324 शव मिले हैं। 

रेल, सड़क, हवाई मार्ग सब बंद

अभी भी काफी संख्या में लोग बाढ़ में फंसे हुए हैं, जिनको निकालने के लिए राहत और बचाव कार्य जारी है। इलाके से पानी को बाहर निकालने के लिए 80 डैम खोल दिए गए हैं। कोच्चि अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे के रनवे पर बाढ़ का पानी भर जाने के कारण शनिवार तक के लिए विमानों का परिचालन बंद कर दिया गया है। जलभराव के चलते रेल और सड़क परिवहन भी ठप हो गया है।

पीएम मोदी पहुंचे

केरल सीएमओ ने ट्वीट कर पीड़ितों की मदद के लिए लोगों से डोनेटशन देने की अपील की है। वहीं, पीएम मोदी भी बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण करने के लिए रवाना हो रहे हैं।इससे पहले केंद्रीय गृह राज्यमंत्री राजनाथ सिंह ने केरल के बाढ़ प्रभावित जिलों का हवाई सर्वेक्षण किया था। इसके बाद राजनाथ ने कहा था कि केरल में स्थिति वाकई बेहद खराब हो गई। उन्होंने केरल के लिए खास पैकेज का भी ऐलान किया था।

कई इलाकों में बारिश जारी

इसके अलावा रक्षा मंत्रालय ने केरल को राहत और बचाव कार्य के लिए 1300 लाइफ जैकेट्स, 571 लाइफबॉय, एक हजार रेनकोट, 1300 गमबूट, 25 मोटराइज्ड बोट, नौ नॉन मोटराइज्ड बोट, 1500 फूड पैकेट और 1200 रेडी-टू-ईट मील उपलब्ध कराए हैं। सूबे के कुछ इलाकों में बारिश थोड़ी थमी है, लेकिन पथनमथिट्टा, अलपुझा, एर्नाकुलम और त्रिशूर जिले अब भी मॉनसूनी संकट से जूझ रहे हैं।

वायुसेना का आॅपरेशन, मछुआरों का अभियान जारी

केरल में बाढ़ में फंसे लोगों को निकालने के लिए भारतीय वायुसेना ऑपरेशन 'करुणा' चला रहा है। 5 Mi-17V5 और तीन अन्य हेलिकॉप्टर के जरिए पथानामथिट्टा, एर्नाकुलम और त्रिशूर जिले में फंसे लोगों को बचाया गया है। केरल के अलुवा, कालाडी, पेरुम्बवूर, मुवाट्टुपुझा और चालाकुडी में फंसे लोगों को निकालने के लिए स्थानीय मछुआरे भी अपनी-अपनी नौकाएं लेकर बचाव अभियान में जुट गए हैं।

BSNL और जियो ने कॉलिंग फ्री की

इसके अतिरिक्त सरकारी टेलीकॉम कंपनी BSNL और रिलायंस जियो ने बाढ़ प्रभावित केरल के अपने ग्राहकों को फ्री कॉलिंग की सुविधा दी है। भारती एयरटेल, वोडाफोन और आइडिया सेल्यूलर ने अपने प्रीपेड ग्राहकों को सीमित संख्या में मुफ्त कॉलिंग की सुविधा दी है।



मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week