भिंड-मुरैना में बाढ़, टीकमगढ़ में जलभराव, गुना, विदिशा, सीहोर में हालात बिगड़े | MP WEATHER REPORT - Bhopal Samachar | No 1 hindi news portal of central india (madhya pradesh)

Bhopal की ताज़ा ख़बर खोजें





भिंड-मुरैना में बाढ़, टीकमगढ़ में जलभराव, गुना, विदिशा, सीहोर में हालात बिगड़े | MP WEATHER REPORT

26 July 2018

भोपाल। मध्यप्रदेश के 20 ​से ज्यादा जिलों में मूसलाधार बारिश ने आम जनजीवन को अस्त-व्यस्त करते रख दिया है। भिंड-मुरैना में बाढ़ के कारण स्कूल बंद कर दिए गए हैं। यहां चम्बल उफान पर है। पूरे इलाके में अलर्ट जारी किया गया है। बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। सभी तरफ पानी ही पानी नजर आ रहा है। रपटों, छोटे पुल-पुलियाओं पर से पानी गुजर रहा है जिससे अंदरुनी इलाकों को सम्पर्क कट गया है। चंबल नदी भी उफान पर है। टीकमगढ़ में भी नदी नाले उफान पर आ गए हैं। झांसी सहित कई गांवों का टीकमगढ़ से संपर्क टूट गया। गुना में बारिश से छह मकान धाराशायी हो गए। गुना, विदिशा, सीहोर में हालात बिगड़ रहे हैं। 

टीकमगढ़ में बारिश से हाल-बेहाल:

आसपास के गांवों से निकली नदियां और नाले उफान पर होने से जिले का कई जगहों से संपर्क टूट गया। टीकमगढ-झांसी मार्ग दो घंटे तक बंद रहा जिससे नदी किनारे वाहनों की कतारें लग गई। ओरछा की जामनी नदी, जेवरा नाला और उमडार नदी के पुल पर पानी आने से घंटों जाम की स्थिति बनी रही। जामनी नदी में पानी आने से जिला प्रशासन ने ओरछा जाने वाले रास्ते से आवागमन रोक दिया था। वेतना नदी में भी पानी की मात्रा बढ़ गई। जामनी पुल से सिर्फ दो फीट नीचे तक पानी पहुंच गया। वेतवा नदी उफान पर है।

चंबल में आया उफान

मुरैना जिले में हो रही लगातार बारिश से चंबल नदी सहित पहाड़गढ़ की सोन व बागचीनी क्षेत्र की क्वारी नदी में उफान आ गया है। पहाड़गढ़ में जहां सोन नदी में उफान से 12 गांवों का रास्ता पानी से बंद हो गया है। वहीं बागचीनी क्षेत्र में भी क्वारी का पानी रपटा पर चढ़ने से50 गांव के लोगों को 40 किमी का फेरा लगाकर मुरैना आना पड़ रहा है। वहीं चंबल नदी का जलस्तर भी 129 मीटर पर पहुंच गया है,जबकि यहां खतरे का निशान 138 मीटर पर है। ऐसे में प्रशासन ने नदी किनारे बसे 60 गांवों में अलर्ट जारी कर दिया है। यहां सरपंच-सचिवों को नदी का जलस्तर बढ़ने पर ग्रामीणों को पंचायत भवन, स्कूल भवनों में तत्काल शिफ्ट करने के लिए तैयार रहने को कहा गया है।

गुना, विदिशा, सीहोर में हालात बिगड़े

गुना में पिछले 4 दिन से बारिश जारी है। झागर और भौंरा नदी उफान पर होने गुना से कई गांवों का संपर्क टूट गया। विदिशा में पिछले 5 दिन से लगातार बारिश हो रही है। लगातार बारिश के बाद बेतवा में पानी बढ़ गया है। रंगई घाट का बैराज अब पूरी तरह डूब गया है। सीहोर में अब तक बारिश का आंकड़ा 611 मिमी पहुंच चुका है। वहीं दूसरे नंबर पर आगर है, जहां औसत से 156 फीसदी ज्यादा यानी 425 मिमी पानी बरस चुका है। इंदौर में अब तक 378.9 मिलीमीटर बारिश हुई है। जबकि इस वक्त तक 367.5 मिमी बारिश होती है।

24 घंटे में कहां कितनी बारिश (मिमी. में)
टीकमगढ़ 84, दतिया 56.2, गुना 59.8 ग्वालियर 50.5, खजुराहो 42.4, दमोह 24, होशंगाबाद 31, नरसिंहपुर 23 भोपाल 23.5 रायसेन 22.6, श्योपुर 20, सतना 13.8, उमरिया 12.6, मंडला 11.3 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

;

Amazon Hot Deals

Loading...

Popular News This Week

 
-->