यदि जीत सुनिश्चित करना है तो सिंधिया को सीएम कैंडिडेट बनाएं: सत्यव्रत चतुर्वेदी | mp election news

17 July 2018

भोपाल। मध्यप्रदेश कांग्रेस समन्वय समिति के सदस्य और अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के पूर्व प्रवक्ता सत्यव्रत चतुर्वेदी ने एक बार फिर बयान देकर खलबली मचा दी है। दिग्विजय सिंह से तनातनी के कारण अक्सर सुर्खियों में आ जाने वाले सत्यव्रत चतुर्वेदी का कहना है कि मध्यप्रदेश में कांग्रेस के पास ज्योतिरादित्य सिंधिया का कोई विकल्प ही नहीं है। उन्हे तत्काल सीएम कैंडिडेट घोषित कर दिया जाना चाहिए। न्यूज एजेंसी IANS से बातचीत में चतुर्वेदी ने कहा, 'इस प्रदेश में कांग्रेस को सत्ता में लाना है तो सिंधिया को मुख्यमंत्री का चेहरा बनाना होगा, पिछले आठ साल से यही बात कहता आ रहा हूं और आज भी उसी पर कायम हूं। सच्चाई यही है कि कांग्रेस को राज्य में सरकार बनाने के लिए ज्योतिरादित्य सिंधिया को चेहरा बनाना ही होगा।

चतुर्वेदी ने एक सवाल के जवाब में कहा, 'सिंधिया युवा है, उनकी कार्यशैली और राजनीति पूरी तरह पारदर्शी है, वे निर्विवाद नेता हैं, उनमें युवाओं से लेकर बुजुर्ग पीढ़ी तक को जोड़ने की क्षमता है, प्रदेश की बहुसंख्यक आबादी उन्हें भावी मुख्यमंत्री के तौर देख भी रही है, लिहाजा पार्टी को उन्हें मुख्यमंत्री का उम्मीदवार घोषित करने में ज्यादा देरी नहीं करनी चाहिए।'

कांग्रेस और गुटबाजी एक दूसरे का पर्याय होने के सवाल पर चतुर्वेदी ने साफ किया कि कांग्रेस के तमाम नेताओं ने आगामी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की जीत का संकल्प लिया है, पार्टी में किसी तरह की गुटबाजी नहीं है, सभी मिलकर काम कर रहे है, हर कोई चाहता है कि कांग्रेस सत्ता में लौटे, लिहाजा कोई पार्टी को नुकसान नहीं पहुंचाना चाहता।

बता दें कि चतुर्वेदी और समन्वय समिति के अध्यक्ष दिग्विजय सिंह के बीच राजनीतिक अदावत बीते तीन दशकों से चली आ रही है, उसके बावजूद दोनों नेताओं ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं में समन्वय बनाने के लिए कई इलाकों का एक साथ दौरा किया है। चतुर्वेदी कहते है कि नेताओं के बीच आपसी मतभेद हो सकते हैं, मगर वर्तमान में सभी एकजुट हैं, और सभी की एक ही प्राथमिकता है कि कांग्रेस को जिताना है।

राज्य की वर्तमान शिवराज सिंह चौहान की सरकार के सवाल पर चतुर्वेदी ने कहा कि राज्य की जनता झूठी घोषणाओं से परेशान हो चुकी है। किसान, मजदूर, कर्मचारी या यूं कहें कि राज्य का हर वर्ग परेशानी के दौर से गुजर रहा है। इस सरकार के खिलाफ जमीनी स्तर पर व्यापक असंतोष है। बस जरूरत इस बात की है कि कांग्रेस जमीनी स्तर पर सरकार की विफलताओं को आम जनता को बताए और राज्य में कांग्रेस की सरकार बनने पर किस तरह से आम आदमी की जिंदगी में बदलाव आएगा, इसे समझाना भी आवश्यक हो गया है।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week