शिवराज सिंह, कर्नाटक के सवाल पर चुपचाप आगे बढ़ गए

19 May 2018

नई दिल्ली। आपको याद होगा 4 दिन पहले कर्नाटक चुनाव परिणाम के बाद सीएम शिवराज सिंह ने चुटकी ली थी। लिखा था- "कांग्रेस को INC के बजाय कांग्रेस (PMP) नाम रख लेना चाहिए", PMP यानी पंजाब, मिजोरम, पुडुचेरी। आज कर्नाटक में बीएस येदियुरप्पा की भाजपा सरकार गिर जाने के बाद जब सीएम शिवराज सिंह चौहान से प्रतिक्रिया मांगी गई तो उन्होंने कुछ नहीं कहा, चुपचाप आगे बढ़ गए। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बीएस येदियुरप्पा विधानसभा में बहुमत सिद्ध नहीं कर पाए। उन्होंने फ्लोर टेस्ट होने से पहले ही इस्तीफा दे दिया और जनगणमन पूरा होने से पहले ही सदन छोड़कर चले गए। 

बता दें कि चुनाव अभियान के दौरान भी शिवराज सिंह ने कर्नाटक चुनाव को लेकर काफी बयान जारी किए थे। कटनी मध्यप्रदेश में उन्होंने कहा था कि: काँग्रेस इस समय बौखलाई हुई है। राहुल गांधी ने कह दिया कि मैं प्रधानमंत्री बनने के लिए तैयार हूँ, उनको बना कौन रहा है भाई? काँग्रेस कहीं बची नहीं, दो-तीन राज्यों में बची है, उसमें से भी 15 तारीख को यहाँ (कर्नाटक) नहीं रहेगी। 

कई कार्यक्रम रद्द करके प्रचार करने कर्नाटक गए थे शिवराज

सीएम शिवराज सिंह कर्नाटक में चुनाव प्रचार के लिए भी गए। वो कन्नड़ भाषी प्रदेश है। लोगों को हिंदी नहीं आती। कन्नड़ के अलावा वो अंग्रेजी समझते हैं परंतु फिर भी हिंदी भाषी नेताओं को कर्नाटक भेजा गया। शिवराज सिंह अचानक कर्नाटक के लिए रवाना हुए। उनके पूर्व से तय कई कार्यक्रम रद्द कर दिए गए। संविदा कर्मचारी महापंचायत भी रद्द हुई। कर्मचारियों ने शिवराज सिंह को काफी भला बुरा भी कहा था। 

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...