कठुरा और उन्नाव गैंगरेप पर बॉलीवुड भड़का, सेलिब्रिटीज ने बयान जारी किए | BOLLYWOOD NEWS

12 April 2018

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के कठुआ में आठ साल की बच्ची के रेप और हत्या के तीन महीने बाद इस घटना को लेकर देशभर में हंगामा मच गया है। सिर्फ राजनीतिक पार्टियां ही नहीं, बॉलीवुड सेलिब्रिटीज भी इस घटना का विरोध करते हुए 'जस्टिस फॉर आसिफा' (आसिफा के लिए न्याय) मुहिम से जुड़े हैं। फरहान अख्तर से लेकर वीर दास तक और ऋचा चड्ढा से लेकर सोनम कपूर तक ने लोगों से अपील की है कि वह इस मुहिम से जुड़ें और बच्ची को न्याय दिलाएं।

बॉलीवुड एक्ट्रेस टिस्का चोपड़ा ने कहा कि अगर मामले में सरकार ने इस बार कार्रवाई नहीं की तो वह अगले चुनाव में उनके लिए वोट नहीं करेंगी। एक्ट्रेस ऋचा चढ्डा ने ट्वीट किया, 'एक नाबालिग के साथ बलात्कार और हत्या को कोई भी सही नहीं ठहरा सकता। आखिर कैसे वह गौ हत्या को एक बहाना बना सकते हैं जब उन्होंने इस हरकत को एक मंदिर में अंजाम दिया गया है? ऐसे लोग नकली हिंदू हैं, वह किसी भी धर्म के लिए शर्मनाक हैं। उन सभी पर लानत, जो इन लोगों को बचा रहे हैं।

ऋचा ने अपने एक अन्य ट्वीट में लिखा, 'दुनिया को पता चलना चाहिए कि हम अपने बलात्कारियों को बचाते हैं। हम पूजा करने के स्थान पर नीचता का काम करते हैं और झंडे को अपमानित करते हैं.. शुक्र है विदेशी मीडिया बिकाऊ नहीं है...'
बॉलीवुड  एक्टर फरहान अख्तर ने लिखा, "कल्पना कीजिए उस 8 साल की बच्ची के दिमाग में क्या चल रहा होगा, जिसे नशे की हालत में, बंधी बनाकर, कई दिनों तक बलात्कार और फिर हत्या कर दी गई हो। अगर आप उसे आतंक नहीं मानते हैं, तो आप इंसान नहीं हैं। अगर आप उसके लिए न्याय की मांग नहीं करते हैं, तो आप कुछ भी नहीं हैं।"   
वहीं, उनके पिता और जाने-माने लेखक जावेद अख्तर ने लिखा, ' जो लोग भी महिलाओं के लिए न्याय चाहते हैं उन्हें उन्नाव और कठुआ के रेपिस्ट और उन्हें बचाने वालों के खिलाफ आवाज उठानी चाहिए।' 


फिल्म 'बाहुबली' फेम एक्ट्रेस तमन्ना भाटिया ने ट्वीट किया, 'जम्मू-कश्मीर में एक 8 साल की लड़की का बलात्कार होता है। 16 साल की लड़की के बलात्कार का विरोध करते हुए पिता को बलात्कारी को बचाने के चक्कर में पीट-पीट कर मार दिया जाता है। हमारे देश किस तरफ बढ़ रहा है? आखिर कितनी निर्भयाओं को अपना बलिदान देना होगा? 
स्वरा भास्कर ने लिखा, 'एक 8 साल की बच्ची के साथ बलात्कार और फिर हत्या हुई क्योंकि वह मुस्लिम जनजाति की थी, जिसे हिंदू राइट विंग के गुंडे उस इलाके से निकालना चाहते थे।'  

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week