मात्र 250 से शुरू होगा मोदी की बुलेट ट्रेन का किराया | NATIONAL NEWS

14 April 2018

नई दिल्ली। मोदी सरकार के ड्रीम प्रोजेक्ट बुलेट ट्रेन पर तेजी से तैयारियां चल रही हैं। 15 अगस्त 2022 तक इस प्रोजेक्ट को पूरे होने की उम्मीद है। 508 किलोमीटर लंबी इस परियोजना पर 1 लाख 10 हजार करोड़ रुपये खर्च होने का अनुमान है। बुलेट ट्रेन की शुरुआत होने के बाद मुंबई से अहमदाबाद या अहमदाबाद से मुंबई का सफर महज दो घंटे में तय होगा। जब बुलेट ट्रेन के प्रोजेक्ट की शुरुआत हुई थी तो लोगों के बीच इसके किराये को लेकर काफी चर्चा हुई थी। लोगों का मानना था कि इसका किराया आम आदमी की पहुंच से बाहर होगा लेकिन आपको बता दें कि इसका शुरुआती किराया 250 रुपये होगा।

320 किमी/ घंटा की टॉप स्पीड
मुंबई से अहमदाबाद के बीच प्रस्तावित बुलेट ट्रेन में सफर करने के लिए यात्रियों को 250 से 3,000 रुपये तक का किराया देना होगा। यह किराया गंतव्य के हिसाब से अलग-अलग होगा. बुलेट ट्रेन की ‘टॉप स्पीड’ 320 किमी/ घंटा होगी। इसका परिचालन 2022 तक शुरू होने की उम्मीद है। सरकार की इस परियोजना के संभावित किराये का पहला आधिकारिक संकेत देते हुए नेशनल हाई स्पीड रेल कॉरपोरेशन लिमिटेड (NHSRCL) के प्रबंध निदेशक अचल खरे ने बताया कि किराये की यह दर मौजूदा अनुमानों और हिसाब पर आधारित है।

अधिकतम किराया 3000 रुपये
उन्होंने बताया कि मुंबई और अहमदाबाद के बीच का किराया 3,000 रुपये होगा। वहीं बांद्रा- कुर्ला कॉम्पलेक्स और ठाणे के बीच किराया 250 रुपये होगा. खरे ने बताया कि एक ‘बिजनेस क्लास’ होगा और इसका किराया 3,000 रुपये अधिक रहने की संभावना है। एक अधिकारी ने बताया कि ठाणे और बांदा - कुर्ला कॉम्पलेक्स के बीच हाई स्पीड ट्रेन से यात्रा में 15 मिनट का समय लगेगा और इसका किराया 250 रुपये होगा। जबकि, ट्रैक्सी से करीब डेढ़ घंटे का समय लगता है और 650 रुपये खर्च होते हैं।

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->