SATNA ग्रामीणों ने फायरबिग्रेड तोड़ दी, डायल 100 पुलिया से फेंक दी | MP NEWS

Advertisement

SATNA ग्रामीणों ने फायरबिग्रेड तोड़ दी, डायल 100 पुलिया से फेंक दी | MP NEWS


भोपाल। बिजली कंपनी की लापरवाही के कारण अमरपाटन के 90 एकड़ में खड़ी फसल राख हो गई। हाईटेंशन लाइन से निकली चिंगारी के कारण खेतों में आ लग गई और देखते ही देखते किसानों की करीब 60 लाख रुपए की फसल जलकर राख हो गई। किसानों ने तत्काल मदद के लिए फायर बिग्रेड और डायल 100 को बुलाया लेकिन कोई नहीं आया। बाद में डायल 100 पहुंची तो गुस्साए ग्रामीणों ने उसे पुलिया के नीचे धकेल दिया। 

बताया जा रहा है कि गोपालपुर निवासी एक किसान के खेत के ऊपर से हाईटेंशन तार गुजरी हुई है। जिसमें अचानक शार्ट सर्किट से निकली चिंगारी गेहूं की फसल में गिर गई। जिससे तेज हवा के साथ आग ने दूसरे खेतों को भी अपनी चपेट में ले लिया। ग्रामीणों ने आग लगने की सूचना पुलिस व फायर ब्रिगेड को दी। लेकिन न तो फायर ब्रिगेड पहुंची और न ही पुलिस। बाद में जब फायर ब्रिगेड व पुलिस पहुंची तो ग्रामीणों ने चारों तरफ से उसे घेर लिया। 100 डायल में सवार पुलिस व फायर ब्रिगेड कर्मचारी कुछ समझ पाते तब तक ग्रामीणों ने दोनों वाहनों में तोड़फोड़ शुरू कर दी। डायल-100 गाड़ी को नाले में ले जाकर धकेल दिया। 

लोगों ने खुद मेहनत करके काबू की आग
आग ने गोपालपुर से भीषमपुर तक आने वाले सभी खेतों को अपनी चपेट में ले लिया। जानकारी होने पर ग्रामीणों ने एकजुट होकर कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। बाद में सतना, मैहर, नादन देहात, अमरपाटन से पुलिस फोर्स को मौके पर भेजा गया। जहां पुलिस व राजस्व के अधिकारियों की समझाइश के बाद ही ग्रामीण शांत हुए। अमरपाटन के एसडीएम रिसव गुप्ता ने बताया कि आग की वजह से कितनी फसलों को नुकसान हुआ है, इसका आकलन तहसीलदार व अन्य अधिकारियों द्वारा किया जा रहा है। पीड़ित किसानों की फसलों की क्षति की पूरी भरपाई की जाएगी।