लड़की ने खुद बताया कैसे हुई MLA हेमंत कटारे से मुलाकात और रेप | BHOPAL CRIME NEWS

Wednesday, February 7, 2018

भोपाल। विधायक हेमंत कटारे को ब्लैकमेल करने के आरोप में जेल भेजी गई छात्रा अब रिहा हो गई है। मंगलवार देर शाम सेंट्रल जेल से जमानत पर रिहा हुई छात्रा ने वकील आकाश तैलंग के साथ मीडिया से खुलकर बात की। उसने सारी कहानी तो नहीं बताई लेकिन काफी कुछ स्पष्ट करने की कोशिश की। मीडिया के सामने उसने अपनी बात रखी। अब तक यह मामला सोशल मीडिया पर ही चल रहा था। इससे पहले छात्रा की मां ने भी मीडिया के सामने आकर अपनी बात रखी थी। 

छात्रा ने बताया मैंने यूथ मांगे आजादी एक ग्रुप बनाया था। इसमें सरकार के खिलाफ काम करने वालों से संपर्क किया। दोस्तों के माध्यम से हेमंत से बातचीत हुई थी। बाद में हेमंत ने मुझे अरेरा काॅलोनी स्थित जूना जिम मिलने बुलाया। शाम हो रही थी इसलिए मैं जाना नहीं चाहती थी। हेमंत के बुलाने पर वहां पहुंची। वहां उसने मेरे साथ दुष्कर्म किया और वीडियो बनाया। फोटो एवं वीडियो वायरल करने की धमकी देकर मुझे दिल्ली भी लेकर गया। 

उसने कहा कि जितने भी ऑडियो और वीडियो जारी हुए हैं, उनकी सत्यता जांचने के लिए फॉरेंसिक जांच होनी चाहिए। गिरफ्तारी के दौरान क्राइम ब्रांच में दो वीडियो बने थे। एक वीडियो हेमंत से माफी मांगते हुए जबरदस्ती बनवाया गया था। 

भाजपा नेता अरविंद भदौरिया, मुन्ना भदौरिया अाैर अन्य लोगों से संपर्क के मामले में उसने कहा मेरे मोबाइल की कॉल डिटेल निकाली जा सकती है। मैं किसी भी नेता के संपर्क में नहीं हूं। हेमंत ही मुझे ब्लैकमेल कर धमकाकर गलत काम कर रहा था। मैं केवल अपने परिवार के संपर्क में हूं। 

गिरफ्तारी के बाद बलात्कार का आरोप क्यों लगाया, इसके बारे में बताते हुए छात्रा ने कहा गिरफ्तारी के दौरान क्राइम ब्रांच की एएसपी रश्मि मिश्रा को दो बार बताया कि मेरे साथ हेमंत ने दुष्कर्म किया है। वही ब्लैकमेल कर मेरे साथ गलत काम कर रहा है। उन्होंने मेरी नहीं सुनी। जेल में मुझे लगा कि मैं यहां सबसे ज्यादा सुरक्षित हूं तो हिम्मत करके हेमंत के खिलाफ दुष्कर्म की एफआईआर के लिए डीआईजी को आवेदन लिखा। 

छात्रा ने बताया कि जिस बैग के साथ उसे गिरफ्तार होना बताया वह हेमंत का ही ब्रांडेड बैग था। क्राइम ब्रांच में मेरे सामने बैग रखा गया। उसमें एक जैकेट और पांच लाख रुपए थे। इस बैग को मैंने हाथ तक नहीं लगाया था। पुलिसकर्मी हेमंत से पूछ रहे थे कि पांच लाख रुपए जब्ती दिखा दें, तो मुझे पता चला कि बैग में पांच लाख रुपए हैं। 

विक्रमजीत सिंह से संबंध के बारे में उसने कहा विक्रमजीत ने खुद बताया है कि वह हेमंत के कहने पर मुझसे मिला था। मेरे लिए वह हेमंत की तरफ से पैसे ऑफर करने वाला व्यक्ति है और कुछ नहीं। 

छात्रा ने कहा कि मैं किसी के हाथ का खिलौना नहीं बनी हूं। मेरे साथ गलत हुआ है। आगे भी पत्रकारिता ही करूंगी। समय आने पर सभी सबूत कोर्ट के सामने पेश करूंगी। उसने मेरी मां का अपहरण किया है और लगातार अत्याचार कर रहा है। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...

Popular News This Week

 
Copyright © 2015 Bhopal Samachar
Distributed By My Blogger Themes | Design By Herdiansyah Hamzah