मप्र में चुनाव के लिए नई ईवीएम मशीनें आएंगी | MP NEWS

18 January 2018

भोपाल। 2018 में आ रहे मध्यप्रदेश विधानसभा चुनावों (MP ELECTION 2018) के लिए अब नई EVM मशीनें आएंगी। पुरानी मशीनों को उठाकर गोदाम में डंप कर दिया गया है। 2019 के लोकसभा चुनाव भी नई मशीनों से ही कराए जाएंगे। प्रदेश में करीब 50 हजार ऐसी मशीनें हैं जो 2000 से 2003 के बीच बनी हुई है। इन मशीनों को नष्ट करवाया जाएगा। इस संबंध में संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी एसएस बंसल ने सभी जिला कलेक्टर को पत्र लिखकर सूचित कर दिया है। बता दें कि भारत निर्वाचन आयोग ने पत्र लिखा था कि 15 साल पुरानी बनी ईवीएम मशीनों की गिनती कर उन्हें अलग से वेयर हाउस या गोडाउन में रखवा दिया जाए।

भोपाल में सोमवार को जिला प्रशासन ने ईवीएम मशीनें गिनवाकर अलग रख दी है। ऐसा कोर्ट में दायर याचिकाओं के कारण किया जा रहा है। आयोग ने कहा था कि 2000 से 2003 तक की ईवीएम को न्यायालय की अनुमति के बाद ही उन्हें वेयर हाउस में रखवाएं। यदि वे इन मशीनों को निर्णय होने तक सुरक्षित रखने को कहें तो इस आदेश का पालन किया जाए।

राजधानी में 15 साल पुरानी है 233 बीयू और 2540 सीयू
भोपाल जिला निर्वाचन कार्यालय की माने तो जिले में 2000 से 2003 तक बनी ईवीएम मशीनों की रिपोर्ट मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय को भेज दी गई है। जिले में 233 बीयू (बैलेट यूनिट)और 2540 सीयू (कंट्रोल यूनिट) रखी हुई हैं। यह सभी मशीनें पुराने बेनजीर कॉलेज भवन में रखी हैं। हालांकि 2540 में से 217 सीयू हाईकोर्ट में चल रहे केसों के चलते ब्लॉक करके सुरक्षित रखी गई हैं। जिला कार्यालय की माने तो वैसे तो जिले की 231 सीयू हाईकोर्ट के आदेश के चलते ब्लॉक हैं, इसमें से 12 सीयू वर्ष 2004 तथा 2 सीयू 2005 की हैं। इसके अतिरिक्त 3740 बीयू अमरावती (महाराष्ट्र) विधानसभा चुनाव के लिए भेजी गई थीं, जो अब तक प्राप्त नहीं है। 320 बीयू और 245 सीयू हैदराबाद में सुधरने के लिए गई थीं, यह भी सुधरकर नहीं आई हैं। यह सभी मशीनें भी 15 साल पुरानी बनी हैं।

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->