रेप पीड़िता ने राजीनामे में मेरा पति रख लिया

Advertisement

रेप पीड़िता ने राजीनामे में मेरा पति रख लिया

भोपाल। पुलिस कंट्रोल रूम के बाहर अपनी बर्बाद जिंदगी की कहानी लिए एक महिला भटकती मिली। वो अपनी शिकायत कई पुलिस अधिकारियों से कर चुकी है परंतु कोई मदद नहीं करता। वो बताती है कि उसके पति को एक महिला पुलिस कर्मचारी ने अपने जाल में फंसा लिया। फिर उसके खिलाफ रेप केस दर्ज करा दिया और राजीनामा के नाम अब उसने पति को अपने पास ही रख लिया। पिछले 2 साल से उसका पति घर नहीं लौटा है। 

पीड़ित महिला का नाम हेमलता पचोरे है। वो अपने दो बच्चों के साथ पुलिस कंट्रोल रूम के बाहर रोते हुए मिली। वो अपनी फरियाद लेकर पुलिस अफसरों से मिलने आई थी, लेकिन उसे निराशा हाथ लगी। हेमलता अपने पति काशीराम को पिछले दो सालों से खोज रही है। हेमलता ने कहा कि काशीराम पुलिस विभाग की ही एक महिला कर्मचारी के प्रेमजाल में फंस गया है। उस महिला ने उसके पति को पूरी तरह से अपने वश में कर लिया है।

हेमलता के मुताबिक, 2014 में काशीराम ने उस महिला से शादी कर ली। तब से वो गायब है। हालांकि हेमलता यह भी आरोप लगाती है कि, शादी के एक साल बाद उस महिला ने उसके पति पर रेप का केस दर्ज कराया था। हालांकि उसके बाद दोनों में समझौता हो गया और अब वे साथ में रहते हैं। हेमलता का आरोप है कि वो महिला पहले उसके घर पर आती रहती थी। दोनों के बीच पारिवारिक रिश्ते थे। हेमलता ने कहा कि, एक बार जब वो उस महिला के घर पहुंची, तो उसकी फैमिली ने उसे बेइज्जत करके भाग दिया। हेमलता का आरोप है कि वो अपनी समस्या मुख्यमंत्री से लेकर पुलिस के आला अधिकारियों तक पहुंचा चुकी है, लेकिन कोई कुछ नहीं करता।