बार बार प्रेमी के पास चली जाती थी, पति और बेटे ने महिला का पैर काट डाला

Advertisement

बार बार प्रेमी के पास चली जाती थी, पति और बेटे ने महिला का पैर काट डाला

टीकमगढ। जिले के बल्देवगढ थाना क्षेत्र ग्राम बनयानी में पति ने अपने पुत्र के साथ मिलकर धारदार कुल्हाडी से पत्नि का बाया पैर काट डाला, और पिता पुत्र फरार हो गया। यह वारदात उन्होंने इसलिए की क्योंकि 35 वर्षीय महिला मना करने के बावजूद बार बार अपने प्रेमी के पास पहुंच जाती थी। पीडित महिला के दूसरे पति ने थाना में रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने आरोपी पिता पुत्र के खिलाफ धारा 307 का प्रकरण दर्ज कर आरोपियो की तलाश प्रारंभ कर दी। 

मिली जानकारी के अनुसार बल्देवगढ थाना क्षेत्र ग्राम बनयानी निवासी गोकल कुशवाहा अपनी पत्नि श्रीमती मुरलीबाई 35 वर्ष व पुत्र मुलायम कुशवाहा के साथ मजदूरी करने दिल्ली गये हुये थे। साथ में गॉव पडोसी सजातीय काशीराम कुशवाहा 24 बर्ष भी मजदूरी करता था। महिनों एक जगह पर मजूदरी करने के दौरान मुरलीबाई का प्रेम प्रसंग काशीराम कुशवाहा से हो गया। प्रेम प्रसंग इतना परवान चढ गया कि खुलेआम मुरलीबाई और काशीराम पति पत्नि की तरह एक साथ रात्रि और दिन गुजारने लगे। 

जिससे गोकल कुशवाहा व पुत्र मुलायम का खून अन्दर ही अन्दर खोलने लगा, और पिता पुत्र मौके की तलाश करने लगे। काफी समझाने के बाबजूद मुरलीबाई अपने प्रेमी का साथ छोडना नही चाहती थी। बीते मंगलवार को पति गोकल पुत्र मुलायम व पत्नि मुरलीबाई गॉव बनयानी आये। साथ में पडोसी काशीराम आया। मुरलीबाई पति पुत्र को छोडकर प्रेमी काशीराम के घर पहुॅच गई। इससे और पिता पुत्र को आत्मग्लानि हुई और आज दोपहर में पिता पुत्र ने काशीराम कुशवाहा के खेत पर जाकर पत्नि मुरलीबाई को पकडकर घर में बंद करके धारदार कुल्हाडी से उसका बाया पैर काटकर सडक पर फेक दिया और फारार हो गये। 

इसकी सूचना सरकारी एम्बूलेंस 100 को दी गई। गंभीररूप से घायल पीडिता को सरकारी अस्पाताल में भर्ती कराया गया। प्रेमी काशीराम कुशवाहा की सूचना पर बल्देवगढ थाना पुलिस ने आरोपी पति गोकुल कुशवाहा पुत्र मुलायम  कुशवाहा के खिलाफ धारा 307 का प्रकरण दर्ज कर आरोपियो की तलास प्रारंभ कर दी।